भाजपा जनमत स्वीकार करे, जनमत को जबरन हथियाने का प्रयास न करे : राठौर

नाइट कर्फ्यू का फैसला समझ से परे : राठौर

शिमला: हिमाचल प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों चलते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कैबिनेट ने कुछ फ़ैसले लिए है इस पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि जयराम सरकार अपने ही लिए गलत फैसलों के विफल होने पर वापस लेती है। सरकार अव्यवहारिक फैसले ले रही है। फील्ड में जाकर व्यवस्थाओं को जांचने की जगह मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री और अफसर सचिवालय में बैठकर रणनीति बना रहे हैं। सरकार ने हिमाचल को प्रयोगशाला बना कर रख दिया है। सरकार के फैसलों में सोच और गंभीरता नहीं है। वेंटिलेटर चलाने को तकनीशियन नहीं हैं। आक्सीजन की कमी से कई मरीजों की मौत हुई है।

राठौर ने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन शिमला में आयोजित प्रेस वार्ता में मंत्रिमंडल की बैठक में सोमवार को लिए गए फैसलों पर कहा कि प्रदेश अब सर्दी के मौसम में लोग रात आठ बजे के बाद घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। ऐसे में नाइट कर्फ्यू का फैसला समझ से परे है। इस फैसले से वो लोग परेशान होंगे, जिन्हें जरूरी काम होंगे। संक्रमण के मामले बढ़ने के साथ ही सरकार संवेदनहीन हो गई है। जयराम सरकार की गलत नीतियों के चलते ही प्रदेश का आज कोरोना संक्रमण में देश में पहला नंबर पहुंच गया है।

वहीं राठौर ने कहा कि प्रदेश में होने जा रहे नगर निकायों के चुनावों में कांग्रेस अपने उम्मीदवार उतारेगी। जिला परिषद, नगर पंचायत, नगर परिषद और बीडीसी के लिए प्रत्याशियों का चयन करने को कांग्रेस कमेटियों का गठन करेगी। मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला की अध्यक्षता में हुई ऑनलाइन बैठक में यह फैसला हुआ है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने सभी जिला अध्यक्षों को ब्लॉक अध्यक्षों से चर्चा कर दस दिनों के भीतर कमेटियां बनाने के निर्देश दे दिए हैं। राठौर ने बताया कि प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला ने बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने का आह्वान करते हुए कमेटियां गठित करने को कहा है। नगर निकाय चुनावों के लिए कांग्रेस विचारधारा वाले उम्मीदवारों का पार्टी समर्थन करेगी। इन प्रत्याशियों को जीताने के लिए हर नेता और कार्यकर्ता सहयोग करेगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *