मुख्यमंत्री ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र को दी 31 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं 

मुख्यमंत्री ने जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र को दी 31 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं 

  • मुख्यमंत्री ने की नगर पंचायत जुब्बल की पार्किंग के लिए एक करोड़ रुपये स्वीकृत करने की घोषणा

शिमला: जिला शिमला के जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र के एक दिवसीय प्रवास कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने क्षेत्र के लिए लगभग 31 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण किए और आधारशिलाएं रखीं। उन्होंने जुब्बल तहसील की ग्राम पंचायत जयपीड़ी माता में 61 लाख रुपये से विभिन्न बस्तियों सुंडली, नैहनार और गुंटू के लिए निर्मित बहाव जलापूर्ति योजना (जीडब्ल्यूएसएस) का शुभारम्भ किया।

मुख्यमंत्री ने छह करोड़ रुपये की लागत से जुब्बल में बनने वाली कार पार्किंग की आधारशिला रखी। उन्होंने 4.99 करोड़ रुपये से तहसील कोटखाई के ग्राम पंचायत क्यारी, पनोग, बगाहर, पराली व शिल्ली की विभिन्न बस्तियों में छूटे हुए घरों को कवर करने के लिए उठाऊ जल आपूर्ति/भूजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास किया। ग्राम पंचायत दरकोटी, गरावग, बागडोमेहर व पांदली में छूटे हुए घरों को कवर करने के लिए 2.87 करोड़ रुपये की उठाऊ जल आपूर्ति योजना/भूजल आपूर्ति योजना, तहसील कोटखाई की ग्राम पंचायत देवगढ़, गुम्मा, हिमरी, प्रेमनगर, व नगान में छूटे हुए घरों को कवर करने के लिए 1.12 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ जल आपूर्ति योजना/भूजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास किया।

जय राम ठाकुर ने 2.92 करोड़ रुपये की लागत से तहसील टिक्कर में ग्राम पंचायत पुजारली नंबर-3 और धरारा के आसपास के क्षेत्र सराधर-फरोग तथा नकसतेली-धारीकुप्पड़-गरोट के लिए उठाऊ जलापूर्ति योजना/भूजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास किया। तहसील टिक्कर की ग्राम पंचायत पुजारली नंबर-4 के गांव रोखाल्टूपाणी तथा इसके आसपास के क्षेत्र के लिए 1.48 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना, नाबार्ड के अंतर्गत 2.80 करोड़ रुपये से बनने वाली बखरैल कैंची से कुल्ला जुब्बड़ वाया जराही टाॅप ओडी सम्पर्क मार्ग को चैड़ा व पक्का करने के कार्य, एक करोड़ रुपये की लागत से तहसील जुब्बल की ग्राम पंचायत झाल्टा और भोलाड़ के बचे हुए घरों को कवर करने के लिए विभिन्न बस्तियों में घरेलु नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए उठाऊ जल आपूर्ति योजना/भूजल आपूर्ति योजना शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत गुम्मा, किरवी, कलबोग, बखोल, रतनाड़ी व बाघी के अंतर्गत विभिन्न बस्तियों को बचे हुए घरों में नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए 89 लाख रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना/भूजल आपूर्ति योजना की नींव रखी। तहसील जुब्बल की ग्राम पंचायत बढ़ाल में बाॅऊली बधावली तथा साथ लगते गांवों के लिए 87 लाख रुपये की लागत से बनने वाली भूजल आपूर्ति योजना, तहसील जुब्बल के दयोरा के लिए 85 लाख रुपये की लागत से भूजल आपूर्ति योजना और खड़ापत्थर में 80 लाख से बनने वाले राष्ट्रीय उच्च मार्ग के उपमंडल कार्यालय की आधारशिला रखी।

इस अवसर पर खड़ापत्थर में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार इस विधानसभा क्षेत्र का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित कर रही है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष के जुलाई माह में उन्होंने इस क्षेत्र में वर्चुअल माध्यम से 270 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए थे। इस वर्ष के दौरान उन्होंने इस क्षेत्र में 301 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गिरि गंगा को एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शिमला जिला में हाटकोटी मन्दिर एक प्रमुख धार्मिक स्थल है और सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि इसका उचित सौन्दर्यकरण और रख-रखाव किया जाए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण सभी विकासात्मक प्राथमिकताओं के बारे में पुनः सोचने और योजना बनाने के लिए विवश हुए हैं। सभी अधिकारियों को उनकी प्राथमिकताओं की पुनः योजना बनानी चाहिए और इस क्षेत्र में विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं को समयबद्ध पूर्ण करने के लिए भी लक्ष्य पुनः निर्धारित करने चाहिए।

मुख्यमंत्री ने सरस्वती नगर स्थित खेल मैदान में निर्माणाधीन सब बेस के साथ 8 लेन के 400 मीटर सिंथेटिक ट्रैक और अन्य सम्बद्ध कार्यों का निरीक्षण किया। इसके निर्माण पर 12.42 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों को इस ट्रैक को समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए।

जय राम ठाकुर ने माता हाटकोटी मन्दिर में पूजा-अर्चना की और मां दुर्गा मन्दिर हाटकोटी में पार्किंग और सौन्दर्यकरण कार्यों का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री ने नगर पंचायत जुब्बल की पार्किंग के लिए एक करोड़ रुपये स्वीकृत करने की घोषणा की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *