प्रदेश कांग्रेस की चुनाव रणनीति पर बैठक 27 को कसौली में

डीपीआर नाबार्ड को भेजने के निर्णय का स्वागत : कांग्रेस

रोहडू : ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जुब्बल नावर कोटखाई ने उच्च न्यायालय की ओर से मिहाना खड्ड बढ़ाल लेहरोटी कटारला वाया शोभा सड़क की डीपीआर नाबार्ड को भेजने का स्वागत करते हुए इसे जनता की जीत बताया है। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जुब्बल नावर कोटखाई के अध्यक्ष मोतीलाल डेरटा, वीरेंदर घेजटा, मोतीलाल सिथटा, भीम सिंह झौहटा, यशोधर तांटा, लोकपाल शरकोली, कांता दंदरोल्टा, अनीता चौहान, मीना प्रेमी और कौशल मुंगटा ने संयुक्त बयान में कहा कि लोकतंत्र में विकास एक निरंतर प्रक्रिया है। स्वस्थ लोकतंत्र में सत्तासीन विधायक का कर्तव्य होता है कि पूर्व में स्वीकृत कार्यो को गति दें। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके विपरीत मौजूदा विधायक ने स्वीकृत कार्यो को रोक कर नकारात्मक राजनीति का परिचय दिया। पूर्व मुख्य संसदीय सचिव रोहित ठाकुर ने वर्ष 2017 में मिहाना खड्ड बढ़ाल लेहरोटी कटारला वाया शोभा सड़क को विधायक प्राथमिकता में डालकर सड़क के निर्माण के लिए 9.74 करोड़ रुपये की डीपीआर बनवाई थी।

 उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्य संसदीय सचिव रोहित ठाकुर के अथक प्रयासों से खड़ापत्थर में स्वीकृत सीए स्टोर का टेन्डर सभी औपचारिकता पूरी होने के बावजूद भी एपीडा के निदेशक रहते हुए नरेंद्र बरागटा ने रदद् करवा दिया। मौजूदा विधायक द्वारा पेयजल योजनाओं के टेन्डर रदद् तक किए गए। पूर्व कांग्रेस सरकार के समय खोले गए स्वास्थ्य संस्थान, जनता की मांग पर स्वीकृत बस रूट नकारात्मक राजनीति के चलते विधायक द्वारा बन्द करवाए गए। जन हित को नजरअंदाज कर विधायक के चहेतों को लाभ देने तक विभागों की कार्यप्रणाली सीमित रही।

नरेंद्र  बरागटा का तीन वर्षो का कार्यकाल कर्मचारियों और अधिकारियों के तबादलों में निकल गया। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र में सभी विकासात्मक कार्य रुकें पड़े हैं और अब पंचायती चुनाव नजदीक आते देख जनता को गुमराह करने के लिए मुख्यमंत्री को अंधेरे में रखकर नरेंद्र शिलान्यास करवा  रहे हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *