मुख्यमंत्री ने भोरंज विधानसभा क्षेत्र को दी 80.60 करोड़ रुपये की सौगात

मुख्यमंत्री ने भोरंज विधानसभा क्षेत्र को दी 80.60 करोड़ रुपये की सौगात

  • विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन किए और आधारशिला रखीं

शिमला: मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के लिए आईटीआई भोरंज में 1.95 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित भवन का लोकार्पण किया।  जय राम ठाकुर ने जल जीवन मिशन के तहत 45.41 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली लगवल्टी-बमसन उठाऊ पेयजल योजना, 12.40 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली मलियान-सदरियाना उठाऊ पेयजल योजना और 1.87 करोड़ रुपये की लागत की अमरोह उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना के सुदृढ़ीकरण और स्तरोन्नयन की आधारशिला रखीं। उन्होंने 3.12 करोड़ रुपये के व्यय से पूरी होने वाली समलाह-दसमल वाया टोहू सड़क, 8.34 करोड़ रुपये की लागत वाली मतलाना-बुहाना सड़क, 1.83 करोड़ रुपये की लागत से जम्बेहड़ गांव तक जाने वाली टिक्कर-खटरियान-डिम्मी सड़क, चंथ खड्ड पर 2.50 करोड़ रुपये की लागत से पुल और भोरंज में 3.20 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले बस अड्डे की भी आधारशिला रखीं।

कंजियान के राजकीय महाविद्यालय भोरंज के मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी ने हमें अपनी जीवनशैली को पूरी तरह से परिवर्तित करने पर विवश कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए फेस मास्क का उपयोग और सामाजिक दूरी के नियमों के पालन करना अनिवार्य हो गया है। कोरोना महामारी के कारण पिछले सात-आठ महीनों के अंतराल के उपरांत भोरंज विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने पहली बार जनसभा को संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लगवल्टी-बमसन उठाऊ पेयजल योजना के सुदृढ़ीकरण और स्तरोन्नयन से 144 गांवों को और इस क्षेत्र की 215 बस्तियों को बेहतर पेयजल सुविधा उपलब्ध हो सकेंगी जिससे इस क्षेत्र के लगभग 64 हजार लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि मलियान-सदरियाना उठाऊ जल आपूर्ति योजना के पूरा होने से लगभग 23 हजार लोग और इस क्षेत्र की 67 बस्तियों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि भोरंज बस अड्डे के निर्माण से क्षेत्र के लोगों की लंबे समय से लंबित मांग पूरी हो सकेगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि जिला हमीरपुर के विकास पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केवल हमीरपुर जिले के लिए 80 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान सड़कों के रख-रखाव और निर्माण कार्यों के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि कोरोना महामारी के कारण प्रदेश के विकास की गति में कोई बाधा न आए। उन्होंने कहा कि इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए सभी आवश्यक एहतियात बरतने चाहिए। उन्होंने कहा कि इस संक्रमण से अपना बचाव करने के लिए आज भी मास्क और आवश्यक सामाजिक दूरी बनाए रखना एकमात्र विकल्प है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष के नेता इस विपत्ति के समय में भी राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे प्रदेश के अन्य राज्य में फंसे लाखों हिमाचलियों की प्रदेश वापसी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा कोई भी कदम न उठाने को मुद्दा बना रहे थे और अब जब प्रदेश सरकार ने देश के विभिन्न राज्यों से 2.50 लाख लोगों को प्रदेश वापस लाया है, तो कांग्रेस के कुछ नेता प्रदेश सरकार पर इन लोगों को घर वापस लाकर  लाखों हिमाचलियों की जान जोखिम में डालने का आरोप लगा रहे हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त नेतृत्व के कारण ही आज देश के करोड़ों लोगों का सपना साकार हुआ, प्रधानमंत्री द्वारा अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन संपन्न किया गया, जिसका निर्माण कार्य दो-तीन वर्षों में पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केवल यही नहीं, बल्कि अनुच्छेद 370, तीन तलाक आदि जैसे अनेक ऐतिहासिक निर्णय भी सरकार द्वारा लिए गए। उन्होंने कहा कि संपूर्ण विश्व भारत को विश्व शक्तिके रूप में पहचान रहा है लेकिन विपक्ष के नेता इसमें भी कमियां खोज रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज देश प्रतिदिन लगभग 4.50 लाख पीपीई किट्स का उत्पादन कर अन्य दूसरे देशों को भी निर्यात कर रहा है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *