इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस का सत्याग्रह

इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस का सत्याग्रह

  • कृषि सुधार कानून को वापिस लेने की मांग

शिमला : इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस ने केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि सुधार कानून के खिलाफ किसान अधिकार दिवस मनाकर सत्याग्रह एवम उपवास आंदोलन किया और कानून को वापिस लेने की मांग की। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा है कि वह देश के किसानों  के हितों से बड़ा खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा है कि देश के छोटे व मंझोले किसानों को आजाद भारत में एक बार फिर से साहूकारों व बड़ी कंपनियों का गुलाम बनाने की पूरी कोशिश की जा रही है।

आज देश की पहली महिला प्रधानमंत्री स्व.इंदिरा गांधी की पुण्य तिथि व लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर मीडिया से बातचीत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि आज फिर से कांग्रेस को किसानों के हितों की लड़ाई के लिए मैदान में उतरना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने देश की आजादी के बाद किसानों की दशा सुधारने के लिए जो कानून बनाये  थे आज उनकी जगह नए किसान विरोधी कृषि कानून बनाये जा रहें है। इन कानूनों में किसानों की चिंता बाजिव है।

इससे पूर्व राजीव भवन में देश के दोनों महान सपूतों को उनके छाया चित्रों के आगे कांग्रेस अध्यक्ष समेत कांग्रेस नेताओं ने अपने अपने श्रद्धासुनम अर्पित किये।

स्व.इंदिरा गांधी को अपने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए राठौर ने कहा कि जिस मजबूती के साथ उन्होंने देश को आगे बढ़ाया उसी के परिणाम स्वरूप उन्हें विश्व के नेता के तौर पर जाना जाता था। उन्होंने कहा कि देश मे बैंकों का राष्ट्रीय करुण के साथ गुटनिरपेक्ष आंदोलन के सफल आयोजन से उन्हें आयरन लेडी के नाम से जाना जाने लगा। इसी व्यक्तित्व के चलते उन्होंने पाकिस्तान के दो टुकड़े तक कर डाले। सिक्किम को भारत का अंग बनाया।उन्होंने कहा कि आज भी इंदिरा गांधी देश की प्रेरणा स्रोत है, जिन्होंने देश की एकता और अंखडता के लिए अपने प्राणों की आहूति तक दी।

लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद करते हुए राठौर ने कहा कि देश के पहले गृह मंत्री बने पटेल ने देश की छोटी रियासतों को एक सूत्र में पिरोकर देश को मजबूत किया।किसानों के हितों को हितों की रक्षा कर देश मे उन्हें साहूकारों की गुलामी से मुक्त कर उन्हें मुझारा कानून से मुक्ति दिलाई।

बाद में कांग्रेस ने रिज मैदान पर इंदिरा गांधी की प्रतिमा के आगे देश के किसानों के हितों की रक्षा के लिए किसान अधिकार दिवस के तौर पर सत्यग्रह उपवास रखा।

 इस उपवास पर कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर,महिला अध्यक्ष जैनब चंदेल,प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी हरिकृष्ण हिमराल,आदर्श सूद, यशपाल तनाईक,सत्यजीत नेगी,वेद ठाकुर,सुशांत कपरेट,शहरी कांग्रेस अध्यक्ष जितेंद्र चौधरी,आकाश सैनी,रामकृष्ण शांडिल,नरेद्र कवंर,सोनिया चौहान, अरूण शर्मा,आनंद कौशल,तनु चौहान,इंद्रजीत सिंह, नरेद्र ठाकुर,अंकुश कुमार,ऊषा मेहता,चंद्रशेखर शर्मा, दीपक रुहाल, राजेश वर्मा,रविन्द्र कवंर,बृंदा सिंह,कृष्णा, रूमा शर्मा, पुष्पा शोभटा, मनीषा कश्यप, सत्या माधाइक, शांता राजटा,कविता कवंर, निर्मला, उमा मुद्रयाल, ओम प्रकाश पुरी,सौरभ चौहान, अरुण ठाकुर,कांशी राम,भपेंद्र चौहान, सेनराम नेगी,नागुन राम के अतिरिक्त कई अन्य पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *