शिमला डीसी आदित्य नेगी ने दिए अधिकारियों को सरकारी योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने के आदेश 

डीसी शिमला आदित्य नेगी ने दिए अधिकारियों को सरकारी योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने के आदेश 

शिमला: जिला के विभिन्न विकास खण्डों से क्रियान्वित होने वाली विकासात्मक योजनाओं की विस्तृत खण्ड बार समीक्षा एवं जानकारी उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता में आज आयोजित बैठक के दौरान  प्राप्त की गई। खण्ड विकास अधिकारियों एवं अन्य अधिकारियों के साथ आयोजित इस बैठक में उन्होंने अधिकारियों को सरकारी योजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण करने के आदेश दिए ताकि जिले में लाभार्थियों को इसका अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके।

उन्होंने जिला में मनरेगा योजना के तहत किए जा रहे कार्यों पर संतोष जाहिर करते हुए इस कार्य में पीछे रहने वाले विकास खण्डों को कार्य में गति लाने के निर्देश दिए ताकि निर्धारित समय में कार्य की पूर्ति की जा सके। उन्होंने इस संबंध में किए गए सामाजिक अंकेक्षण का भी जायजा लिया। उन्होंने बताया कि इसमें जो-जो आपत्तियां दर्ज करवाई गई है उसका समाधान शीघ्र करने के निर्देश दिए।
उपायुक्त ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत जिले की महिलाओं को स्वरोजगार अपनाने के लिए प्रोत्साहित करने तथा आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से स्वयं सहायता समूह के गठन पर बल दिया। उन्होंने कहा कि पंचायतों में विकासात्मक कार्यों के लिए आबंटित राशि का सदुपयोग किया जाए तथा निर्धारित समयावधि में इसका निपटारा करे अन्यथा शुरू न हुए कार्यों की राशि को कार्यालय को वापिस जमा करवा दें।
उपायुक्त ने योजना प्रभाग के तहत विकासात्मक कार्य योजनाओं की समीक्षा करते हुए खण्ड विकास अधिकारियों को वर्ष 2018 से पहले के कार्य जो किन्हीं कारणों से शुरू नहीं हो पाए थे को जल्द आरम्भ करने अथवा पैसा वापिस करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जो कार्य पूर्ण हो चुके है अधिकारी जल्द से जल्द उसका उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा करें।
उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्वयं सहायता समूह के जो ऋण मामले अनुमोदन के लिए बैंक को भेजे हैं, बैंक उन्हें तुरन्त पारित करें ताकि समूहों को समय पर ऋण उपलब्ध किया जा सके। इस संबंध में अधिकारियों को बैंकों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य पूर्ति के निर्देश भी जारी किए गए।
उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए विकास खण्ड अधिकारियों की अहम भूमिका है। सभी खण्ड विकास अधिकारी फील्ड में जाकर विकास कार्यों का निरंतर निरीक्षण करें और साप्ताहिक आधार पर इनकी प्रगति की समीक्षा भी करें। उन्होंने कहा कि कम प्रगति वाले कार्यों को प्राथमिकता प्रदान करते हुए अगली बैठक के लिए सुधार कर संतोषजनक आंकड़े प्रस्तुत करें।
उन्होंने बताया कि विभिन्न योजनाओं के तहत जो लक्ष्य दिए गए हैं उसको खण्ड विकास अधिकारी योजनाबद्ध तरीके से पूरा करें।
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत चल रहे कार्यों को खण्ड विकास अधिकारी व्यक्तिगत तौर पर साप्ताहिक स्तर पर निगरानी व निरीक्षण कर जल्द पूर्ण करने के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि प्रयास किए जाएं कि यह कार्य दिसम्बर, 2020 से पूर्व पूर्ण किए जा सके तथा डोडरा क्वार क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करवाने के आदेश दिए ताकि बर्फबारी के कारण यह कार्य आगे स्थगित न हो।
स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत पायलट स्तर पर प्रति खण्ड चयनित 5-5 पंचायतों का गहन निरीक्षण कर उनकी कार्य प्रणाली पर निगरानी रखें। उन्होंने कहा कि इन पंचायतों से जो अनुभव उभर कर आए उसके अनुरूप कार्य योजना तैयार कर अन्य पंचायतों के लिए रूपरेखा तैयार की जाए। उन्होंने 5 चयनित पंचायतों द्वारा स्वच्छता सेस का भी जायजा लिया।
उन्होंने बताया कि पंचायत चुनाव के मध्य नजर समय-समय पर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी तैयारियां पूर्ण की जाए ताकि चुनाव के समय किसी भी प्रकार की बाधा का सामना न करना पड़े। उन्होंने पंचायत निर्वाचन की तैयारियों की समीक्षा भी की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *