केंद्र ने हिमाचल को सितंबर माह के लिए जारी किये 952 करोड़ : अनुराग

भारतीय हैंडलूम-हैंडीक्राफ़्ट का ज़्यादा प्रयोग आत्मनिर्भर भारत का विजन करेगी साकार : अनुराग

शिमला: केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री  अनुराग सिंह ठाकुर ने राष्ट्रीय हैंडलूम दिवस के अवसर पर लोगों से हैंडलूम -हैंडीक्राफ़्ट उत्पादों,स्थानीय उत्पादों के ज़्यादा से ज़्यादा इस्तेमाल करने की अपील की है। अनुराग ठाकुर ने कहाभारतीय हैंडलूम व हैंडीक्राफ़्ट उत्पादों की अपनी एक गौरवशाली विरासत है। स्वदेशी उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 7 अगस्त को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस के रूप में मानने की घोषणा की गई थी। भारत का हैंडलूम, हमारा हैंडीक्राफ्ट अपने आप में सैकड़ों वर्षों का गौरवमयी इतिहास समेटे हुए है। भारत में 27 लाख से ज़्यादा परिवार हैंडलूम व्यवसाय पर निर्भर हैं।हम सभी का प्रयास होना चाहिए कि न सिर्फ भारतीय हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें बल्कि इसके बारे में हमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को बताना भी चाहिए। भारत का हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट कितना रिच है, इसमें कितनी विविधता है यह दुनिया जितना ज्यादा जानेगी उतना ही हमारे लोकल कारीगरों और बुनकरों को लाभ होगा।

आगे बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा हिमाचल प्रदेश देवभूमि के नाम से प्रसिद्ध है और यहाँ के लोगों में अदभुद प्रतिभा देखने को मिलती है। हस्तशिल्प के नाम पर यहाँ पत्थर, धातु की मूर्तियाँ,गुड़िया, मिट्टी के बर्तनों, चित्रों,कालीनों, शॉल की देश विदेश में भारी माँग है। हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में कई सारे स्वयं सहायता समूह हिमाचली कला और संस्कृति को स्थानीय उत्पादों के माध्यम से दुनिया के सामने ला रहे हैं। राष्ट्रीय हैंडलूम दिवस मनाने के पीछे देश के सामाजिक आर्थिक विकास के क्षेत्र में हैंडलूम के योगदान को उजागर करने व बुनकरों की आमदनी बढ़ाने का लक्ष्य है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने वोकल फ़ॉर लोकल मुहिम के ज़रिए आत्मनिर्भर भारत का लक्ष्य देशवासियों के सामने रखा है जिसे हम सब को अपनी सामूहिक भागीदारी के साथ साकार करना है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *