CBSE 10th Result 2020: सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट घोषित...हिमाचल के छात्रों ने किया शानदार प्रदर्शन

CBSE 10th Result 2020: सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट घोषित…हिमाचल के छात्रों ने किया शानदार प्रदर्शन

r1CBSE 10th Result 2020: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने बुधवार को 10वीं कक्षा की परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए। नतीजे जारी होने की सूचना देते हुए एचआरडी मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि छात्रों का स्वास्थ्य और गुणवत्तापरक शिक्षा हमारी प्राथमिकता है। इसके बाद सीबीएसई ने ट्वीट कर कहा कि 10वीं का पूरा रिजल्ट सभी स्कूलों को भेज दिया गया है। स्कूल अपने ईमेल आईडी या लॉगइन आईडी से लॉग इन कर अपने हर स्टूडेंट्स का रिजल्ट निकाल सकते हैं। स्टूडेंट्स अपने स्कूल से संपर्क कर रिजल्ट पता कर सकते हैं। इसके अलावा 10वीं का रिजल्ट स्टूडेंट्स को एसएमएस, ईमेल के जरिए भी भेजा गया है। डिजिलॉकर से भी रिजल्ट चेक किया जा सकता है।

वहीं इस रिजल्ट में हिमाचल प्रदेश के छात्रों का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। हिमाचल प्रदेश से सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा में 15282 छात्रों ने पंजीकरण किया था जिसमें से 8706 छात्र और 6576 छात्राएं शामिल थी इसमें से 15246 छात्र परीक्षा में अपीयर हुए और इसमें से 14776 छात्रों ने इस परीक्षा को उत्तीर्ण किया है। परीक्षा परिणाम में  लड़कियों का लडकों से बेतरीन प्रदर्शन रहा है।  लड़कियों के पास प्रतिशतता लड़कों से अधिक ज्यादा है। हिमाचल का कुल परिणाम 96.92 फ़ीसदी रहा है। हिमाचल से 10वीं कक्षा की परीक्षा में  8686 छात्र ओर 6560 छात्राएं बैठी थी, जिसमें से 8338 छात्रों ने ओर 6438 छात्राओं ने यह परीक्षा उतीर्ण की है। लड़कों की पास प्रतिशतता का आंकड़ा 95.99 फीसदी रहा है जबकि लड़कियों की पास प्रतिशतता का आंकड़ा 98.14 फ़ीसदी रहा है।

प्रदेश में सीबीएसई स्कूलों में से जवाहर नवोदय विद्यालय स्कूलों के छात्रों का परीक्षा परिणाम सबसे बेहतर रहा है। जवाहर नवोदय विद्यालय स्कूलों का कुल परिणाम 99.74 फ़ीसदी रहा है। जवाहर नवोदय विद्यालय स्कूल के बाद केंद्रीय विद्यालय स्कूलों के छात्रों ने सीबीएसई की 10वीं कक्षा की परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन किया है और केंद्रीय विद्यालय स्कूलों के पास प्रतिशतता कांगड़ा 99.60 फीसदी रही है। इसके अलावा इंडिपेंडेंट स्कूलों की पास प्रतिशतता 96.67 फीसदी ओर सिटी से स्कूलों के छात्रों की पास प्रतिशतता का आकंड़ा 94.84 फीसदी रहा है। वहीं पंचकूला रीजन की बात की जाए तो इस परिणाम में हिमाचल हरियाणा आगे रहा है।

यहां जानें सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट की 10 खास बातें

  •  इस वर्ष 10वीं कक्षा में 91.46 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए जबकि पिछले वर्ष 91.10 फीसदी बच्चे पास हुए थे। यानी पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष रिजल्ट में मामूली (0.36 फीसदी) बढ़ोतरी हुई।

  •  लड़कियों का पास प्रतिशत 93.31 फीसदी और लड़कों का 90.14 फीसदी रहा। यानी लड़कियों का रिजल्ट लड़कों से 93.31 फीसदी अच्छा रहा।

  •  सीबीएसई 10वीं कक्षा में 1.84 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए, 41,000 से अधिक परीक्षार्थियों ने 95 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए।

  •  सीबीएसई ने कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए इस वर्ष 12वीं और 10वीं दोनों कक्षाओं के टॉपरों का ऐलान नहीं किया।

  •  स्टूडेंट्स अपने रिजल्ट cbse.nic.in , cbseresults.nic.in और results.nic.in के अलावा उमंग ऐप ( UMANG ) , डिजिलॉकर ( digilocker.gov.in ) ऐप और SMS भेजकर ( CBSE10 ) भी चेक कर सकते हैं। इसके अलावा IVRS सिस्टम से नतीजे चेक किए जा सकते हैं।

SMS से ऐसे करें चेक
अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में जाकर टाइप करें- CBSE10
 और भेज दें 7738299899 पर। 

  • IVRS सिस्टम से चेक करें – अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो 24300699 पर फोन करें। और अगर आप देश के अन्य हिस्से में रहते हैं तो 011-24300699 पर कॉल करें। 

  •  इस वर्ष 20,387 स्कूलों में 5377 परीक्षा केंद्रों पर 10वीं कक्षा की परीक्षाएं आयोजित की गई थीं। इसमें 18,85,881 छात्रों ने परीक्षा देने के लिये पंजीकरण कराया था और 18,73,015  छात्र परीक्षा में बैठे थे। इनमें से 91.46 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए।

  • स्टूडेंट्स अपनी मार्कशीट व सर्टिफिकेट डिजिलॉकर ऐप के जरिए डाउनलोड कर सकते हैं। लॉगइन डिटेल्स स्टूडेंट्स को एसएमएस कर दी गई है।

  •  फेल नहीं लिखा होगा मार्कशीट में 

    बोर्ड इस बार मार्कशीट में ‘फेल के स्थान पर ‘आवश्यक पुनरावृत्ति’ शब्द का इस्तेमाल कर रहा है। 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *