पांवटा के वार्ड नंबर 5 के कुछ क्षेत्र को किया गया सील : उपायुक्त सिरमौर

जिला सिरमौर में प्रवेश करने वाले कामगार व मजदूर नहीं होगें क्वारंटाइन : डीसी डाॅ. आर.के.परूथी

प्रखर गुप्ता/नाहन: जिला सिरमौर में बाहरी राज्यों से आने वाले मजदूर और कामगारों को क्वारंटाइन नहीं किया जाएगा। यह मज़दूर बागवानी, कृषि, ठेकेदार व परियोजना से संबंधित कार्यों में सीधे तौर से जुड़ सकते हैं। यह आदेश जिला दण्डाधिकारी सिरमौर डाॅ.आर.के. परूथी ने दिए।

उन्होंने बताया कि औद्योगिक श्रमिकों, उद्योगपतियों कारखाने के मालिकों, व्यापारियों, कच्चे माल के आपूर्तिकर्ताओं, सेवा प्रदाताओं, निरीक्षण अधिकारियों को क्वारन्टीन दायरों से छूट दी जाएगी।
व्यापार, व्यवसाय, नौकरी, परियोजना, सेवा उद्देश्य के उद्देश्य से राज्य में आने वाले व्यक्ति, कमीशन एजेंट और वैध परमिट ई-पास के साथ राज्य में प्रवेश करते है तो उच्च कोविड -19 केस वाले शहरों को छोडकर और देश के अन्य हिस्सों से आने वाले लोगों तथा किसी भी गैर सरकारी संगठन के प्रबंधन, प्रभारी या प्रमुख, जिसकी राज्य में शाखाएँ हैं, वह 48 घंटों से कम समय के लिए आता है और सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य कोविड -19 रोकथाम प्रोटोकॉल मानदंडों का पालन करता है, को भी क्वारन्टिन से छूट दी जाएगी। उन्होंने बताया कि छूट वाली श्रेणियों सहित सभी मामलों में आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग अनिवार्य होगा।
उच्च कोविड -19 संक्रमित शहरों से आने वाले सभी व्यक्तियों को केवल असाधारण कारणों जैसे कि गर्भावस्था, परिवार में मृत्यु, गंभीर बीमारी तथा 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों व अभिभावक जिनके 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों होंगे, उन्हें संस्थागत क्वारंटाइन के बजाय 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि जिला में रात 8 बजे से प्रातः 6 बजे तक कर्फ्यू जारी रहेगा परन्तु आवश्यक गतिविधिया जिसमें सामानों के लोडिंग-अनलोडिंग करने वाले व्याक्तियों, राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर चलने वाले ट्रकों और माल वाहकों तथा बसों, ट्रेनों और उड़ानों से उतरने के बाद अपने गंतव्य की ओर जाने वाले व्यक्तियों व सवारियां ले जा रही बसों पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होंगे।
उन्होंने बताया कि जो व्यक्ति इन आदेशों का उल्लघन करते हुए पाया गया उसके विरूद्व आईपीसी की धारा 269, 270 व 188 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 से 60 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *