हिमाचल: प्रदेश में आज 32 नए कोरोना पॉजिटिव, नहीं थम रही रफ्तार...

हिमाचल: प्रदेश में 10 और पॉजिटिव मामले, जिला शिमला में भी आया एक नया मामला

 हिमाचल: प्रदेश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है।  मंगलवार शाम पांच बजे तक 10 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए। इसमें हमीरपुर जिले के आठ, शिमला एक और ऊना जिले का एक मामला है।

हमीरपुर जिले के चार संक्रमित महाराष्ट्र के ठाणे से 24 मई को ट्रेन में हमीरपुर पहुंचे और संस्थागत संगरोध केंद्रों में रखे गए थे। इनमें से तेरटी गांव का 54 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति राजकीय बहुतनीकी संस्थान बड़ू में संस्थागत संगरोध में रखा गया था। दूसरा नादौन क्षेत्र का 44 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति चालक है और बड़ू में ही संस्थागत संगरोध में रखा गया था। 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला भी बहुतकनीकी संस्थान बड़ू में ही संस्थागत संगरोध में थी।
चौथा नादौन क्षेत्र के झरेड़ी गांव का 49 वर्षीय व्यक्ति राधास्वामी परिसर दरकोटी में संस्थागत क्वारंटीन था। सोमवार को इनके सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे थे, जोकि मंगलवार को पॉजिटिव आए हैं। कोरोना संक्रमितों की पुष्टि होने के बाद इन चारों को कोविड-19 केयर सेंटर में शिफ्ट किया जा रहा है। इसके बाद शाम को हमीरपुर में चार और मामले सामने आए।  इसके साथ ही हमीरपुर में कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या 71 पहुंच गई है। जिनमें से पांच ठीक हो चुके हैं, जबकि एक की मौत हो चुकी है। सक्रिय मामलों की संख्या अब 65 पहुंच गई है।
उधर, उपायुक्त हमीरपुर हरिकेश मीणा ने चारों मामलों की पुष्टि करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमित लोगों को कोविड-19 केयर सेंटर भर्ती किया जा रहा है।

वहीं ऊना जिले में भी एक और मामला आया है। संक्रमित व्यक्ति 19 मई को दिल्ली से लौटा था। सोमवार को इसका कोरोना की जांच के लिए सैंपल लिया गया और मंगलवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। संक्रमित ऊना के चड़तगढ़ का रहने वाला है। डीसी ऊना संदीप कुमार ने इसकी पुष्टि की है। 

इसी तरह शिमला जिले के रोहड़ू में भी एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। संक्रमित एचपीपीसीएल विश्राम गृह संदासू में क्वारंटीन था। एसडीएम रोहड़ू ने मामले की पुष्टि की है। 

इसके साथ ही राज्य में कोरोना वायरस के मामलों का आंकड़ा 233 पहुंच गया है। राज्य में कोरोना के 161 सक्रिय मामले हो गए हैं। अब तक 63 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि पांच की मौत हुई है। 

 

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *