हिमाचल: तबादलों पर लगी रोक, एडजस्टमेंट भी नहीं हो पाएगी 

हमीरपुर : संस्थागत क्वारंटीन पर उपजे विवाद के बाद आईएएस का तबादला

हमीरपुर: प्रदेश सरकार ने गुरुवार शाम को प्रदेश में चार एचएएस अफसरों के तबादले किए हैं वहीं, हमीरपुर के नादौन के एसडीएम को भी सरकार ने हटा दिया है।  नादौन में तैनात रही एसडीएम किरण भड़ाना को एसडीएम सलूणी लगाया गया है। सूत्रों का कहना है कि नादौन में रेड जोन से आए एक परिवार के 12 सदस्यों को संस्थागत क्वारंटीन सेंटर भेजने को लेकर उपजे विवाद के चलते सरकार ने एक नेता की सिफारिश पर युवा आईएएस अधिकारी किरण पर गाज गिरी है। खास बात यह है कि उन्हें इस पद पर तैनात रहते हुए 7 महीने हुए थे।
उपायुक्त हमीरपुर हरिकेश मीणा ने 12 मई को जारी आदेशों में कहा था कि बाहरी राज्यों से रेड जोन से आ रहे लोगों को उनके घर नहीं, बल्कि संस्थागत संगरोध किया जाएगा। 12 मई को मुंबई से एक डॉक्टर परिवार के 12 सदस्य मुंबई से अपने गांव फाहल पहुंचे। बताया जा रहा है कि भाजपा नेता ने एसडीएम नादौन से उन्हें संस्थागत के बजाय होम क्वारंटीन करने की मांग की।
एसडीएम ने उपायुक्त के आदेशों का हवाला देते हुए ऐसा करने से इंकार किया। घर से बाहर गांव सेरा विश्रामगृह भेजने के लिए प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। विवाद बढ़ा तो 13 मई को देर शाम जिला प्रशासन ने संशोधित आदेश पारित कर कहा कि 12 मई तक यथास्थिति बरकरार रखी जाए और जो लोग 12 मई तक घरों में क्वारंटीन हैं उन्हें अन्य स्थलों पर ना भेजा जाए। यह भी कहा गया कि नए आदेश को 13 मई से लागू माना जाए। विवाद के बाद आखिरकार सरकार ने एसडीएम को हटा दिया। उनकी जगह सलूणी में तैनात एचएएस अधिकारी विजय कुमार द्वितीय को एसडीएम नादौन, एसडीएम शाहपुर जगन ठाकुर को एसडीएम डलहौजी व एसडीएम डलहौजी रहे डॉ. मुरारी लाल को एसडीएम शाहपुर लगाया है।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *