बीजेपी ने कांग्रेस पर लगायी आरोपों की झड़ी

शिमला: भारतीय जनता पार्टी द्वारा 25 जून, 2015 को राज्यपाल महोदय को सौंपी गई चार्जशीट पर कांग्रेस सरकार द्वारा कोई कार्यवाही न करना बल्कि जिन कांग्रेसी नेताओं के उपर गंभीर आरोप लगे हैं उनको मुख्यमंत्री द्वारा क्लीन चिट देना प्रदेश के अंदर भ्रष्टाचार को बढ़ाना, वन एवं भू माफिया को संरक्षण देने की ओर प्रोत्साहित करता है। यह बात भाजुयमो प्रदेश अध्यक्ष सुनील ठाकुर ने एक प्रैस बयान में कही।

भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष सुनील ठाकुर ने कहा कि हाल ही में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का सीडी प्रकरण सामने आना और मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह द्वारा उनको क्लीन चिट देना संदेह की स्थिति पैदा करता है। वीरभद्र सिंह सरकार का ढाई साल का कार्यकाल बहुत ही निराशाजनक रहा है। अभी तक यह सरकार युवाओं को रोजगार देने के लिए कोई ठोस नीति नहीं बना सकी है बल्कि रोजगार को छीनने में लगी हुई है।

सुनील ठाकुर ने कहा कि भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदेश के मुख्यमंत्री को आगाह करना चाहता है कि प्रदेश के हितों की रक्षा करने में प्रदेश के मुख्यमंत्री आनाकानी नहीं कर सकते हैं। यदि वह प्रदेश के हितों को नुकसान पहुंचाने वालों का इसी तरह समर्थन करते हैं तो भाजयुमो जल्दी ही भाजपा द्वारा सौंपी गई 30 प्रमुख घोटालों वाली चार्जशीट को लेकर जनता के बीच जाएगा और जनता प्रदेश की भ्रष्ट कांग्रेस सरकार को आने वाले पंचायत के चुनाव में आईना दिखाएगी।

भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा कार्यालय व कार्यकर्ताओं पर किए गए हमले के दोषियों पर प्रदेश सरकार कोई कार्यवाही नहीं कर रही है बल्कि जिन भाजपा कार्यकर्ताओं को उसमें चोटें पहुंची थी उन्हीं भाजपा एवं भाजयुमो के कार्यकर्ताओं पर पुलिस केस बना रही है। यह प्रदेश की कांग्रेस सरकार की हिटलरशाही को दर्शाती है। दूसरी ओर प्रदेश में दिन प्रतिदिन पुलिस की गुंडागर्दी बढ़ती जा रही है जिसके उपर सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। एक दो महीने के अंदर ही प्रदेश के अंदर पुलिस द्वारा पर्यटकों की सरेआम पिटाई करना, मंत्री के पीएसओ द्वारा गोली चलाना एवं भाजपा के कार्यकर्ताओं के बेवजह चलान करना इसके प्रमुख उदाहरण है। भारतीय जनता युवा मोर्चा जल्दी ही इन मुददों को लेकर रणनीति तय कर प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करेगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *