जम्‍मू-कश्‍मीर के सोपोर में आतंकी हमला, सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद

जम्‍मू-कश्‍मीर के सोपोर में आतंकी हमला, सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद

श्रीनगर: जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षाकर्मियों पर एक बड़ा आतंकी हमला हुआ है। शनिवार को सोपार में हुए इस हमले में सीआरपीएफ के 3 जवान शहीद हुए हैं व दो अन्‍य सुरक्षाकर्मी घायल भी हुए हैं। आतंकवादियों ने घात लगाकर सोपोर में सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्‍त टीम पर यह हमला किया है। इंडियन आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने एक दिन पहले ही शुक्रवार को ही कश्मीर का दौरा कर सैन्‍य तैयारियों की समीक्षा की थी।

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार आतंकवादियों ने अहद बाब चौराहे के पास नूरबाग इलाके में यह हमला किया। हमले में घायल जवानों को फौरन पास के एसडीएच अस्‍पताल पहुंचाया गया जहां दो सीआरपीएफ जवानों को डॉक्‍टरों ने मृत घोषित कर दिया। एक अन्‍य घायल जवान ने बाद में दम तोड़ दिया। सोपोर के एसपी के अनुसार, घटना के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया और हमलावरों को धर दबोचने की कोशिश की जा रही है।

दो जवान घायल भी हुए हैं : सीआरपीएफ ने शहीद जवानों के नाम बताते हुए जानकारी दी कि फर्ज पर कुर्बान होने वाले सीआरपीएफ जवान हैं: वैशाली, बिहार के राजीव शर्मा (42), बुलढान, महाराष्‍ट्र के सीबी भाकरे (38) और साबरकांठा, गुजरात के परमार सत्‍यपाल सिंह (28)। सीआरपीफ अधिकारियों ने बताया कि दो और जवान हमले में घायल हुए हैं।

शुक्रवार को किया था आर्मी चीफ ने दौरा: शुक्रवार को एलओसी पर सुरक्षा हालात की समीक्षा के दौरान आर्मी चीफ नरवणे सेना की तैयारियों से संतुष्‍ट दिखे थे। उन्‍हें स्थानीय कमांडरों ने नरवणे को मौजूदा सुरक्षा हालात और आतंकवादियों की घुसपैठ रोकने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी थी। हाल में एलओसी पर हो रही सीज फायर के लगातार उल्‍लंघन की घटनाओं के बीच आर्मी चीफ का यह दौरा हुआ था।

सीआरपीएफ पर हाल में हमले बढ़े: इससे पहले शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के नेवा इलाके में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ की ही एक टुकड़ी पर हमला कर दिया था। इस हमले में एक जवान के पैर में गोली लग गई। बाद में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 7 अप्रैल को अनंतनाग जिले के बिजबेहरा इलाके में आतंकी हमले में भी सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया था, जबकि एक अन्‍य जवान घायल हो गया।

खराब मौसम का उठा रहे फायदा : इससे पहले कुपवाड़ा के पोसवाल इलाके के गुर्जर ढोक में हुए एक एनकाउंटर में भी आतंकियों ने हमला कर दिया था। खराब मौसम का फायदा उठाकर भारत में घुसे आतंकियों को सेना ने मार गिराया था। हालांकि, इस पूरे अभियान में भारतीय पैरा ट्रूपर्स के भी पांच जवान शहीद हो गए थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  +  34  =  40