वर्ष 2014 से अभी तक जिला भर मेें लगभग 1 करोड़ रूपये का माल जब्त

वर्ष 2014 से अभी तक जिला भर मेें लगभग 1 करोड़ रूपये का माल जब्त

फीचर

नशे की रोकथाम के लिए जिला पुलिस हमेशा तत्पर

वर्ष 2014 से अभी तक जिला भर मेें लगभग 1 करोड़ रूपये का माल जब्त

कुल 118 मामले इस अधिनियम के तहत पकडे़ गए

भांग व अफीम की खेती को नष्ट करने के लिए चलाए जा रहे हैं व्यापक अभियान

आम जनता से मादक प्रदार्थ व नशीली दवाईओं की तस्करी करने वालों की सूचना पुलिस को देने की अपील

शिमला : शिमला में नशे की रोकथाम के लिए जिला पुलिस हमेशा तत्पर है। पुलिस द्वारा मादक प्रदार्थ अधिनियम के तहत विभिन्न कार्यवाहियों को अन्जाम देते हुए वर्ष 2014 से अभी तक जिला भर मेें लगभग 1 करोड़ रूपये की राशि का माल जब्त किया गया है। कुल 118 मामले इस अधिनियम के तहत पकडे़ गए जिसमें 21 किलों 116 ग्राम चरस, 796 ग्राम अफीम, 1 किलो 600 ग्राम भूक्की, 2519 बोतल प्रतिबंधित पीने की दवाई, 2107 नशीली प्रतिबंधित गोलियॉं जब्त की गई है। जिला के विभिन्न क्षेत्रों में भांग व अफीम की खेती को नष्ट करने के लिए व्यापक अभियान चलाए जा रहे है। जिला को नशामुक्त बनाने के लिए जिला पुलिस द्वारा विभिन्न माध्यमों का इस्तेमाल किया जा रहा है। युवा शक्ति को नशे से दूर करने के लिए समय-समय पर स्कूलों, कॉलेजों, प्रशिक्षण संस्थानों तथा गांव -गांव में जागरूकता शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

नशे से होने वाली शारीरिक मानसिक व आर्थिक क्षति के बारे में सभी वर्गों के लागों को संचार माध्यमों से जागरूक किया जा रहा है। पुलिस द्वारा आम जनता से यह अपील की जाती है कि वह मादक प्रदार्थ व नशीली दवाईओं की तस्करी करने वालों की सूचना पुलिस को दे ताकि तस्करों को पकड़कर उन्हें सजा दिलाई जा सके। आम नागरिकों की नशा मुक्त समाज में भागीदारी सुनिश्चिित हो सके इसके लिए पुलिस उपमण्ड़लाधिकारियों, थाना प्रभारियों तथा चौंकी प्रभारियों द्वारा अपने -अपने श्रेत्राधिकार में लोगों के साथ बैठकों का आयोजन किया जा रहा है।

 

 

 

 

 

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *