शिमला: देवी नंदन के देव कार्य ''खीण'' का आयोजन 30 अप्रैल तक स्थगित

शिमला: देवी नंदन के देव कार्य ”खीण” का आयोजन 30 अप्रैल तक स्थगित

  • कोरोना वायरस के चलते देवी नंदन प्रबंधक कमेटी ने लिया यह फैसला 

शिमला: कोरोना वायरस के प्रभाव से जहां लोगों का दैनिक कामकाज थमा है, वहीं देव कार्य पर भी इसका असर पड़ा है। नवरात्र के चलते मंदिर और देव स्थल भी बंद हैं और इस कारण लोगों के देव कार्य भी नहीं हो पा रहे हैं। उधर, शिमला जिले कोटखाई के देवरी खनेटी की आराध्य देवी नंदन के देव कार्य (खीण) को भी स्थगित कर दिया गया है।  देवी नंदन प्रबंधक कमेटी ने कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते 30 अप्रैल तक खीण के सभी आयोजन स्थगित करने का निर्णय लिया है। इस अवधि के दौरान जिन-जिन लोगों ने देवी नंदन की खीण के कार्यक्रम रखे थे, वे सभी स्थगित कर दिए गए हैं।

प्रबंधक कमेटी के सदस्य राजेंद्र बेक्टा ने बताया कि 30 अप्रैल तक जिन-जिन लोगों ने देवी नंदन की खीण का आयोजन की तारीखें ले रखी थी, उन्हें अब नई तारीखें दी जाएंगी। इसके लिए सभी लोग देवी नंदन के कारदार रोशन लाल रौंटा और भंडारी रतन चंद से संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरन जिन-जिन लोगों ने खीण की बुकिंग करवाई थी, उन्हें नई तारीखें दी जाएंगी और ये तारीखें कोरोना वायरस के प्रभाव के समाप्त होने के बाद दी जाएगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *