हमीरपुर: कोरोना वायरस पर निगरानी, निवारण व नियंत्रण के संबंध में आदेश जारी, लोगों से सहयोग का आग्रह

हमीरपुर: जिला दंडाधिकारी हरिकेश मीणा ने चैत्र मास मेले, नवरात्र तथा जिला में होने वाले अन्य मेलों में कोरोना वायरस महामारी (कोविड-19) की निगरानी, निवारण व नियंत्रण के संदर्भ में प्रतिबंध/विनियमन से संबंधित आदेश जारी किए हैं।

इन आदेशों के अनुसार दियोटसिद्ध मंदिर और आस-पास अन्य स्थानों पर निजी लंगर लगाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। किसी भी धार्मिक संगठन ने यदि लंगर का प्रबंध किया है तो उसे कोविड-19 के निवारण एवं नियंत्रण के लिए सरकार की ओर से जारी मसविदा (प्रोटोकॉल) की सख्ती से अनुपालना करनी होगी। निजी सरायं संचालकों व प्रबंधकों को निर्देश दिए गए हैं कि सराय हाल में लोगों का जमावड़ा न लगने दिया जाए और यहां आने वाले लोग अपने कमरों में बिस्तर क्षमता के अनुसार ही रूकें। मंदिर परिसर में जहां तक संभव हो, समूह में जागरण इत्यादि से भी बचने की सलाह दी गयी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी, हमीरपुर को दियोटसिद्ध मंदिर और जिला के अन्य धार्मिक स्थलों पर प्रचुर संख्या में स्वास्थ्य डेस्क स्थापित करने के निर्देश जारी किए गए हैं। दियोटसिद्ध मंदिर प्रशासन को चैत्र मास मेले के दौरान यहां आने वाले श्रद्धालुओं के पंजीकरण और उनकी पूर्व यात्रा की समुचित जानकारी प्राप्त करने को कहा गया है। आदेशों के अनुसार चूंकि नारियल बिक्री के लिए विभिन्न लोगों के हाथों से श्रद्धालुओं तक पहुंचता है, ऐसे में मंदिर में नारियल चढ़ाने तथा इसकी बिक्री पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है।

प्रसाद ग्रहण करने और बांटने के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करने के साथ ही मंदिर परिसर व सरायों में किसी व्यक्ति के अधिक देर तक ठहरने पर भी पाबंदी लगाई गई है। जिला के सभी होटल व अतिथि गृह (गेस्ट हाऊस) भी आगंतुकों के पूर्व यात्रा वृतांत सहित उनके आवागमन से संबंधित पूर्ण ब्यौरा प्राप्त करेंगे। दियोटसिद्ध मंदिर तथा जिला के अन्य धार्मिक निकायों के कर्मचारियों को भी कोविड-19 की निगरानी, निवारण एवं नियंत्रण के लिए पूर्ण सावधानी बरतने को कहा गया है।

जिला पुलिस, सभी उपमंडलाधिकारी (ना.), मुख्य चिकित्सा अधिकारी व जिला आयुर्वेद अधिकारी, हमीरपुर, बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध के मंदिर अधिकारी, सभी खंड विकास अधिकारी इन आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि लोगों को इस महामारी से घबराने की आवश्यकता नहीं है और निवारक उपायों व सतर्कता से इस पर नियंत्रण पाया जा सकता है, जिसके लिए उन्होंने आम लोगों से सहयोग का आग्रह किया है।

  • आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका के 19 मार्च को होने वाले साक्षात्कार प्रशासनिक कारणों के चलते स्थगित

हमीरपुर : बाल विकास परियोजना अधिकारी टौणी देवी कल्याण चंद ठाकुर ने सूचित किया है कि विकास खंड टौणी देवी के अंतर्गत आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व आंगनवाड़ी सहायिका के 19 मार्च, 2020 को प्रात: 10 बजे बाल विकास परियोजना अधिकारी टौणी देवी के कार्यालय में होने वाले साक्षात्कार किन्हीं प्रशासनिक कारणों के चलते आगामी आदेशों तक स्थगित कर दिए गए हैं।

  • हमीरपुर: सभी सार्वजनिक उत्सवों, मेलों इत्यादि का आयोजन स्थगित करने के आदेश पारित

हमीरपुर: कोरोना वायरस से फैलने वाली महामारी (कोविड-19) के दृष्टिगत अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण) की ओर से जारी परामर्श (एडवायजरी) के मद्देनजर जिला दंडाधिकारी हरिकेश मीणा ने हमीरपुर जिला में किसी भी प्रकार के मेलों/उत्सवों/पर्व /टूर्नामेंट या अन्य ऐसे सार्वजनिक आयोजनों को कोरोना वायरस महामारी नियंत्रण में आने तक स्थगित करने के आदेश पारित किए हैं, जिनमें बड़ी संख्या में लोग एक साथ भाग लेते हैं।

जारी आदेशों के अनुसार अगर किसी निश्चित समयावधि में कोई धार्मिक आयोजन इत्यादि करवाना अवश्यंभावी हो, तो ऐसे आयोजनों में आम लोगों को अति आवश्यक न होने पर आयोजन स्थल पर एकत्र न होने संबंधी परामर्श जारी किया जाए। इसके अतिरिक्त ऐसे आयोजन स्थलों पर कोरोना वायरस महामारी से बचाव व जागरूकता संबंधी प्रचार सामग्री का भी प्रभावी ढंग से प्रदर्शन व आवंटन किया जाए और आयोजकों की ओर से हाथ साफ करने के लिए सेनेटाईजर्स सहित अन्य सामग्री प्रचुर मात्रा में उपलब्ध करवाई जाए। यह आदेश तुरंत प्रभाव से लागू समझे जाएंगे और आगामी आदेशों तक प्रभावी रहेंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *