हिमाचल बजट 2020-21 : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने की ऐतिहासिक पहल, ई-बजट से शुरू किया बजट पेश

मुख्यमंत्री ने प्रस्तुत किया आर्थिक सर्वेक्षण, इस वर्ष प्रति व्यक्ति आय बढ़ने की सम्भावना

  • राजस्व व्यय में वृद्धि होने की सम्भावना

शिमला : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज गुरुवार को विधानसभा में आर्थिक सर्वेक्षण प्रस्तुत किया। जिसमें वर्ष 2019-20 के लिए अनुमानित ग्रोथ रेट 5.6 रहने का अनुमान है। जबकि प्रति व्यक्ति आय 1,95,255 रहने का अनुमान लगाया गया है। कैपिटा इनकम में इस वर्ष 4.90 की वृद्धि जताई गई है। प्राथमिक क्षेत्र में 9.30 की वृद्धि के साथ प्रदेश की आर्थिकी में दिखाए गए हैं।

वर्तमान कीमतों पर प्रति व्यक्ति आय जो 2018-19 के लिए पहले संशोधित अनुमानों के अनुसार 1,83,108 थी, वर्ष 2019-20 के अन्तर्गत् 1,95,255 तक बढ़ने की सम्भावना है, जिससे लगभग 6.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वर्ष 2019-20 के लिए वास्तविक रुप से (प्रति वर्ष 2011-12 कीमतों पर) प्रति व्यक्ति आय 1,46,268 के स्तर को प्राप्त करने की सम्भावना है, जबकि वर्ष 2018-19 में 1,39,469 के स्तर से 4.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

2019-20 के अन्तर्गत् 5.6 प्रतिशत की वृद्धि मुख्य रुप से प्राथमिक क्षेत्र का 9.3 प्रतिशत तथा सामुदायिक एवं व्यक्तिगत सेवा का क्षेत्र 7.7 प्रतिशत है। द्वितीय क्षेत्र में 3.9 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है। बागवानी उत्पादन में 42.82 प्रतिशत की वृद्धि के कारण समग्र प्राथमिक क्षेत्र में 9.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई जो अंततः 5.6 प्रतिशत की समग्र वृद्धि दर्शाती है।

वर्तमान कीमतों पर प्रति व्यक्ति आय जो 2018-19 के लिए पहले संशोधित अनुमानों के अनुसार 1,83,108 थी, वर्ष 2019-20 के अन्तर्गत् 1,95,255 तक बढ़ने की सम्भावना है, जिससे लगभग 6.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वर्ष 2019-20 में राजस्व व्यय में वृद्धि होने की सम्भावना है जबकि वर्ष 2019-20 में जी.एस.डी.पी. के प्रतिशत के रुप में पूंजीगत व्यय में कमी आने की सम्भावना है। बजट अनुमानों के अनुसार, राजस्व प्राप्तियों में वृद्धि वर्ष 2013-14 में 0.72 प्रतिशत थी, जो वर्ष 2019-20 में बढ़कर 8.20 प्रतिशत होने की सम्भावना है।

राजकोषीय घाटा जी.एस.डी.पी. वर्ष 2018-19 में 5.06 प्रतिशत की तुलना में वर्ष 2019-20 में 4.44 प्रतिशत है। जी.एस.डी.पी. के प्रतिशत और राजस्व घाटा वर्ष 2019-20 में घटने की उम्मीद है।

सरकार का कर राजस्व (केन्द्रीय करो सहित) वर्ष 2019-20 में 24.78 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है, जबकि वर्ष 2013-14 में 10.19 प्रतिशत थी। वर्ष 2019-20 में गैर-कर राजस्व की वृद्धि घटकर 5.13 प्रतिशत हो गई जो वर्ष 2013-14 में 29.63 प्रतिशत थी। बजट अनुमान वर्ष 2019-20 के अनुसार वर्ष 2013-14 में 3.51 प्रतिशत की वृद्धि की तुलना में सरकार के कुल व्यय में वृद्धि 1.75 प्रतिशत है। वर्ष 2019-20 में राजस्व व्यय में 8.02 प्रतिशत की वृद्धि होने की सम्भावना है। पूंजीगत व्यय में वृद्धि वर्ष 2013-14 में (-) 5.06 प्रतिशत की तुलना में वर्ष 2019-20 में (-) 6.40 प्रतिशत अनुमानित है।

 

 

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *