विधानसभा बजट सत्र के दृष्टिगत हंस राज ने की सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित बैठक, सत्र के दौरान जिला प्रशासन को उचित दिशा-निर्देश जारी

विधानसभा बजट सत्र के दृष्टिगत हंस राज ने की सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित बैठक, सत्र के दौरान जिला प्रशासन को उचित दिशा-निर्देश जारी

 

  • महत्वपूर्ण निर्णय : विधान सभा सचिवालय में online तथा लिखित आवेदन पर ही मिलेगा ई-प्रवेश पत्र

शिमला:  हिमाचल प्रदेश विधान सभा के उपाध्यक्ष हंस राज ने आगामी बजट सत्र के दृष्टिगत सुरक्षा प्रबन्धों से सम्बन्धित विधान सभा सचिवालय में एक महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में यशपाल शर्मा, सचिव हिमाचल प्रदेश विधान सभा, दिलजीत सिंह महानिरिक्षक इंटैलिजैंस, हरबंस सिंह ब्रेस्कॉन, निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क, ओमापति जम्वाल, पुलिस अधीक्षक, जिला शिमला, प्रभा राजीव, जिला दण्डाधिकारी, जिला शिमला,  विनोद कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, गुप्तचर (सुरक्षा),  संयुक्त सचिव प्रशासन हिमाचल प्रदेश विधान सभा रमेश शर्मा तथा संयुक्त निदेशक, सूचना एवं लोक संर्पक विभाग, प्रदीप कंवर शामिल थे।

बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र online तथा लिखित आवेदन पर ही दिया जाएगा। ई-विधान प्रणाली के तहत विधान सभा सचिवालय इसे online तरीके से मुद्रित करेगी। यह आवेदन सभी ई-प्रवेश पत्र पाने वालों को अनिवार्य है। विधान सभा सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र की जांच हेतु पुलिस द्वारा कम्पयुट्रीकृत जांच केन्द्र मुख्य द्वारों पर स्थापित किए जाएगें ताकि कम से कम असुविधा हो तथा जांच भी  पूर्ण हो।

हंसराज  ने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी क्यु. आर. कोड के माध्यम से फोटो युक्त ई-प्रवेश पत्र को लेपटॉप के माध्यम से प्रमाणित किया जाएगा। इन केन्द्रों पर हर व्यक्ति का डाटाबेस बनेगा जिसे पुलिस नियंत्रण कक्ष से मोनिटर करेगी। उन्होंने कहा कि ई-प्रवेश पत्र ई-विधान के अंतर्गत बनाये जाएंगे। आगन्तुक सत्र के दौरान बायोमिट्रिक मशीन से चैक होने के बाद ही पास बनाकर विधान सभा परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। बैठक में सदस्य तथा आगंतुकों को कम से कम असुविधा हो के दृष्टिगत यह निर्णय लिया  गया कि आगामी बजट सत्र के दौरान विधान सभा सचिवालय द्वारा जारी अधिकारी दीर्घा पास, स्थापना पास तथा प्रैस संवाददाताओं को जारी किए पास प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएगें, ताकि सुरक्षा कर्मियों द्वारा फ्रिस्किंग की कम से कम आवश्यकता रहे।

आगे यह भी निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय की ओर से जारी पार्किंग स्टिकरज वाहन के आगे प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि धारकों को कम से कम असुविधा का सामना करना पड़े। मोबाईल फोन, पेज़र आदि विधान सभा के अन्दर ले जाने पर पूर्णत: प्रतिबन्ध रहेगा।

बैठक उपरान्त विधान सभा उपाध्यक्ष ने विधान सभा परिसर का दौरा किया तथा सत्र के दृष्टिगत चल रही  तैयारियों का जायजा लिया। हंस राज ने पत्रकार दीर्घा का भी दौरा किया तथा उनकी सुविधा हेतु समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने का आदेश दिया। सत्र के दौरान कोई भी अव्यवस्था न हो के बारे में उन्होंने जिला प्रशासन को उचित दिशा निर्देश दिये। बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रैस संवाददाता अपनी गाडियां कैनेडी चौक से लेकर C M Gate  (30 मीटर दूर) तक पार्क कर सकेंगे जबकि विधान सभा सचिवालय के अधिकारी व  कर्मचारी  महालेखाकार चौक से मुख्यमंत्री गेट (30 मीटर दूर) तक अपनी गाड़िया पार्क कर सकेंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *