मुख्यमंत्री ने दिल्ली विधानसभा के मतदाताओं से भाजपा उम्मीदवारों को समर्थन देने का किया आग्रह

मुख्यमंत्री ने दिल्ली विधानसभा के मतदाताओं से भाजपा उम्मीदवारों को समर्थन देने का किया आग्रह

नई दिल्ली : मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश जयराम ठाकुर और और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राजीव बिंदल ने हिमाचल आईटी विभाग की टीम के द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की एंव दिल्ली चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे कार्यकर्ताओं के काम की सराहना की। मुख्यमंत्री ने दिल्ली विधानसभा के मतदाताओं से भाजपा उम्मीदवारों को समर्थन देने और चुनने का आग्रह किया है ताकि राष्ट्रीय राजधानी को सुरक्षित बनाया जा सके और शाहीन बाग जैसी दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं दोबारा घटित न हों।

मुख्यमंत्री आज दिल्ली के करोलबाग विधानसभा क्षेत्र में  भाजपा उम्मीदवार योगेन्द्र चन्दोलिया तथा उत्तमनगर विधानसभा क्षेत्र के मोहन गार्डन व बिन्दापुर में किशन गहलोत के पक्ष में चुनावी रैलियों को सम्बोधित कर रहे थे। जय राम ठाकुर ने कहा कि यह आश्चर्यजनक है कि राष्ट्रीय राजधानी होने के बावजूद दिल्ली के मुख्यमंत्री का चुनाव अभियान का मुख्य मुद्दा पेयजल और बिजली सुविधा है, जबकि हिमाचल प्रदेश जैसे पहाड़ी राज्य में वर्ष 1985 में ही शत-प्रतिशत विद्युतीकरण का लक्ष्य हासिल किया जा चुका था।

मुख्यमंत्री ने दिल्ली के मतदाताओं से आग्रह किया कि वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत एवं योग्य नेतृत्व का समर्थन करें ताकि दिल्ली मैट्रो विश्व की सर्वश्रेष्ठ मैट्रो सेवा बने। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता आम आदमी पार्टी के खोखले वायदों के झांसे में नहीं आएगी क्योंकि उन्होंने पिछले पांच वर्षों में बड़े-बड़े दावे करने के अलावा कोई विकास नहीं किया। मुख्यमंत्री ने राहिणी विधानसभा क्षेत्र के रोहिणी में भाजपा उम्मीदवार विजेन्द्र गुप्ता के समर्थन में भी चुनावी रैली को सम्बोधित किया।

उन्होंने कहा कि यह नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व का परिणाम है कि आज जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को समाप्त कर दिया गया है। इससे पूरे देश में एक देश एक झण्डा और एक संविधान का लक्ष्य पूरा हुआ है और देश मजबूत बना है। उन्होंने कहा कि अब कश्मीर बिना किसी बाधा के दूसरे राज्यों की तर्ज पर समृद्ध होगा।

जय राम ठाकुर ने कहा कि भाजपा ने हमेशा लोगों के हितों को ध्यान में रखा है और मजबूत और गतिशील राष्ट्र निर्माण का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम का लक्ष्य देश की सुरक्षा सुनिश्चित करना है। देश के अल्पसंख्यकों को डरने आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह इस महान देश के नागरिक हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में देश के विभिन्न क्षेत्रों के लोग रहते हैं और वे स्वार्थी लोगों की कुटिल चालों को समझने में सक्षम हैं और झूठे वायदों और दावों में आने वाले नहीं हैं। 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *