शिमला जिला परिषद बैठक : दो माह से लापता शुभम के जांच मामले पर उठे सवाल, की गई सीबीआई जाँच की मांग

  • नशाखोरी को रोकने के लिये जगह-जगह ड्रग कन्ट्रोल रूम खोलने की उठाई गई मांग
  • रोहडू से खड़ा पत्थर नियमित बस सेवा की मांग की गई
  • जिला परिषद अध्यक्ष ने की बर्फबारी से बंद पड़ी सड़कों की बहाली व बिजली आपूर्ति करने की मांग
  • सदस्यों ने उनके क्षेत्रों में स्वास्थ्य क्षेत्र में चिकित्सकों के रिक्त पदों का मामला उठाया और राज्य सरकार से शीघ्र रिक्त पदों भरने की मांग की

शिमला: जिला परिषद शिमला की अध्यक्ष धर्मिला हरनोट ने आज जिला परिषद की त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने इस अवसर पर राज्य वित्त आयोग से संबंधित राशि के उपयोग की स्वीकृति तथा मनरेगा के अंतर्गत शेल्फों को पारित करने पर सदस्यों से विस्तृत चर्चा की।

रोहड़ू के पुजारली गांव का 24 वर्षीय शुभम का दो माह बीत जाने के बाद भी कोई सुराख नही मिल पाया है। परिजन पुलिस की जांच पर पहले ही सवाल उठा चुके हैं और सीबीआई से जांच की मांग कर चुके हैं। बुधवार को शिमला में हुई जिला परिषद की त्रैमासिक बैठक में जिला परिषद सदस्य ने कहा कि उनके वार्ड का एक युवक पिछले करीब दो माह से लापता है लेकिन शिमला पुलिस दो माह बीत जाने के बाद भी युवक को ढूढ़ नहीं पाई है। जिसके चलते शुभम के माता-पिता बहुत परेशान हैं। उन्होंने सरकार से मांग की है कि इस मामले पर सीबीआई जांच करवाई जाए ताकि शुभम के परिवार को उनका खोया हुआ लापता बेटा मिल सके।

जिला परिषद के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र रेटका ने नशाखोरी के बढ़ते प्रभाव पर प्रश्न उठाया और पुलिस, पंचायत जनप्रतिनिधियों, प्रबुद्ध जनता व अभिभावकों का सहयोग मांगा ताकि देवभूमि की युवा पीढ़ी नशे के दलदल से सुरक्षित रह सके। सदस्यों ने कहा कि उपरी शिमला के 80 फीसदी बच्चे नशे की गिरफ्त में है ओर इसे समय रहते रोका नही गया तो आने वाले समय मे बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी। नशावृति को रोकने के लिये जगह-जगह ड्रग कन्ट्रोल रूम खोलने की मांग भी की गई। उन्होंने रोहडू से खड़ा पत्थर नियमित बस सेवा की मांग की ताकि स्थानीय बाशिंदों को असुविधा ना हो।

जिला परिषद सदस्यों ने ठोस कचरा प्रबंधन पर गहन विचार-विमर्श किया और इस संदर्भ में चलाए जा रहे राज्य सरकार के कार्यों की समीक्षा की। जिला परिषद सदस्य रीना ठाकुर ने बागवानों को उनकी उपज के भुगतान पर कृषि उपज विपणन समिति से मामला उठाया और लघु एवं सीमांत बागवानों को उनके अधिकारों पर जागरूक करने का आह्वान किया।

सदस्यों ने उनके क्षेत्रों में स्वास्थ्य क्षेत्र में चिकित्सकों के रिक्त पदों का मामला उठाया और राज्य सरकार से मांग की कि वे शीघ्र इन पदों को भरे ताकि स्थानीय लोगों को राहत मिल सके। सदस्यों ने राष्ट्रीय सोलर लाइटिंग मिशन पर विचार-विमर्श किया और इसके संबंधित घटकों पर अधिकारियों से जवाब तलब किया।

वही बर्फ़बारी के चलते ऊपरी क्षेत्रो में अभी भी बिजली सड़के बहाल नहीं हो पाई है जिला परिषद अध्यक्ष ने जल्द से जल्द लोकनिर्माण विभाग से सड़कों की बहाली ओर बिजली विभाग से बिजली की आपूर्ति करने की मांग की। उन्होंने कहा कि बर्फ़बारी से ऊपरी क्षेत्रो में सड़के अभी भी बन्द है और बिजली भी बाधित हुई है अब मौसम खुल गया है और ऊपरी क्षेत्रों में लोकनिर्माण विभाग जल्द सड़को को बहाल करें।

जिला परिषद सदस्यों ने शूटिंग रेंज धामी पर शीघ्र कार्य आरंभ करने का आह्वान किया ताकि खेल गतिविधियों को जिले में बढ़ावा मिल सके।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त अपूर्व देवगन, जिला पंचायत अधिकारी विजय बरागटा व अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

84  +    =  86