जन शिकायतों का समाधान सरकार की प्राथमिकता : मुख्यमंत्री

जन शिकायतों का समाधान सरकार की प्राथमिकता : मुख्यमंत्री

  • : जन मंच में प्राप्त शिकायतों में से 90 प्रतिशत का किया गया समाधान

रीना ठाकुर/शिमला: प्रदेश सरकार जन शिकायतों के त्वरित समाधान को प्राथमिकता दे रही है। जनता को उनकी शिकायतों का समाधान करवाने में किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े, इसके लिए प्रदेश सरकार ने जनमंच आरम्भ किया है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ने कहा कि 3 जून, 2018 को प्रथम जनमंच का आयोजन किया गया था और अब तक प्रदेश के विभिन्न जिलों में 181 जनमंच आयोजित किए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनमंच में अभी तक 44,800 शिकायतें व मांग पत्र प्राप्त हुए हैं, जिनमें से लगभग 90 प्रतिशत शिकायतों का समाधान कर आम जनता को राहत प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि इस कार्य की समीक्षा वह स्वयं कर रहे हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि इसके अतिरिक्त पिछले वर्ष 16 सितम्बर को जनता की शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए प्रदेश सरकार ने आधुनिक तकनीकयुक्त ‘मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाईन-1100’ भी शुरू की गई। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता 1100 नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं, जिसका समाधान निर्धारित समय पर किया जाता है। यह हेल्पलाईन आम जनता में बहुत प्रचलित हुई है और अभी तक प्रदेश के विभिन्न भागों से 208818 कॉल्स मिल चुकी हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक प्राप्त 208818 कॉल्स में से 50706 विभिन्न मुद्दों से जुड़ी शिकायतें हैं, जिनमें से 43545 समस्याओं का समाधान किया जा चुका है और बाकी 7161 शिकायतों के समाधान की प्रक्रिया विभिन्न स्तरों पर जारी है। जय राम ठाकुर ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से न केवल जनता का कीमती समय और धन बचता है, बल्कि उनकी शिकायतों का समयबद्ध तरीके से  त्वरित समाधान भी सुनिश्चित होता है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *