एचआरटीसी की बसों के यात्रियों के लिए राज्य में 113 ढाबे आवंटित

एचआरटीसी की बसों के यात्रियों के लिए राज्य में 113 ढाबे आवंटित

  • अधिक दरों पर खाना परोसने वाले पांच ढाबे किए गए ब्लैकलिस्ट

शिमला: हिमाचल पथ परिवहन निगम के निदेशक मण्डल ने यात्रियों को उचित दरों पर नाश्ता, दोपहर एवं रात्रि का भोजन उपलब्ध करवाने के लिए एक नीति का अनुमोदन किया गया है जिसके अनुसार प्रदेश में लगभग 113 ढाबे आंबटित किए गए हैं। निगम ने ऐसे ढाबों का चयन एवं आबंटन किया है जहां पर यात्री उचित दामों पर गुणवत्तापूर्ण भोजन ग्रहण कर सकें।

निगम के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि साधारण बसों में यात्रा कर रहे यात्री खाना 60 रुपये, चाय 10 रुपये तथा परांठा 20 रुपये में ग्रहण कर सकता है। इसी प्रकार, वोल्वो एवं वातानुकूलित डीलक्स गाड़ियों में यात्रा करने वाले यात्रियों  को खाना 165 रुपये, चाय 10 रुपये तथा परांठा 20 रुपये में मिलेगा।

कहा कि समय-समय पर निगम प्रबन्धन को यात्रियों और विभिन्न अन्य माध्यमों से भोजन की गुणवत्ता, साफ-सफाई एवं तय सीमा से अधिक मूल्य पर भोजन उपलब्ध करवाने की शिकायतें मिलती रहती हैं। यात्रियों की सुविधा एवं सुरक्षा निगम के लिए सर्वाधित महत्त्वपूर्ण है, इसलिए निगम ने गुणवत्ता पर खरा न उतरने पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पांच ढाबों को कुछ समय पूर्व ही ब्लैकलिस्ट किया है। इनमें ग्रीन वैली करनाल, फौजी वैष्णव ढाबा काला अम्ब, राधिका ढाबा बडुई, तेजू दा ढाबा नेहरिया, मामा रसोई ब्रहमपुखर शामिल हैं।

कुछ समाचार पत्रों में ढाबो द्वारा अधिक राशि वसूलने के समाचार के सम्बन्ध में निगम ने स्पष्ट किया है कि इस मामले की जांच करवाई गई तथा ‘अपनी हवेली रेस्टोरेंट’ हरा बाग, सुन्दरनगर जिला मण्डी को दिनांक 20 जनवरी 2020 को ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है। निगम ने सभी यात्रियों से अनुरोध किया है कि याद इस विषय में उन्हें कोई भी शिकायत हो तो वे तुरंत बस चालक/परिचालक के पास अपनी शिकायत कर सकते हैं। यदि उनकी समस्या का कोई निदान चालक/परिचालक द्वारा नहीं किया जाता तो वे अपनी शिकायत मण्डलीय प्रबन्धक (यातायात), मुख्य कार्यालय, शिमला-03 दूरभाष नंबर 94180-00460 पर शिकायत कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, यात्री दूरभाष नम्बर 0177-2656106 पर प्रबन्ध निदेशक से भी अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि सम्बन्धित मण्डलीय प्रबन्धकों/क्षेत्रीय प्रबन्धकों तथा उड़न दस्तों द्वारा समय-समय पर सभी ढाबों का निरीक्षण किया जाता है और ढाबों में अगर कोई त्रुटि पाई जाती है तो उन्हें सुधारने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि निगम यात्रियों को उचित मूल्य पर गुणवत्तापूर्ण भोजन एवं खान-पान की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृत सकंल्प है। सभी ढाबों पर रेट लिस्ट लगाना सुनिश्चित बनाने के लिए सभी जिलाधीशों से भी निवेदन किया गया है कि वे अपने अधीन अधिकारियों द्वारा रेट लिस्ट की समय-समय पर जांच करवाएं ताकि यात्रियों से अधिक वसूली न हो। निगम के सभी मण्डलीय प्रबन्धकों/क्षेत्रीय प्रबन्धकों ने सख्त आदेश पारित किए हैं कि वे सभी ढाबों का नियमित रूप से निरीक्षण करते रहें एवं यात्रियों से प्राप्त किसी भी शिकायत को गंभीरता से लें तथा उस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए शिकायतकर्ता को भी सूचित करें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *