कुल्लू: भुंतर से लाहौल के लिए हवाई सेवा शुरू

हिमाचल: लाहौल-स्पीति से 66 लोगों को हेलीकॉप्टर से लाया कुल्लू

  • बीमार, वृद्ध व गर्भवती महिलाओं को हेलिकाप्टर द्वारा लाहौल-स्पीति से कुल्लू पहुंचाया गया

हिमाचल : सभी जिलों के उपायुक्तों और सम्बन्धित अधिकारियों को राज्य में हिमपात के कारण बाधित सभी आवश्यक सेवाओं को शीघ्र बहाल करने के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि आज 66 बीमार, वृद्ध और गर्भवती महिलाओं को हेलिकाप्टर द्वारा लाहौल-स्पीति से कुल्लू लाया गया है। मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग को बर्फबारी के कारण बाधित सभी प्रमुख सड़कों को शीघ्र बहाल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्पतालों और अन्य आवश्यक सुविधाओं के लिए जाने वाली सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर बहाल किया जाए, ताकि लोगों को किसी भी समस्या का सामना न करना पड़े।

उन्होंने सभी जिलों के उपायुक्तों को निर्देश दिए कि बर्फबारी के दौरान मरीजों व अन्य आपात परिस्थितियों में फंसे लोगों की सहायता के लिए त्वरित आवश्यक कदम उठाए जाएं। 

मुख्यमंत्री ने सभी जिलों में उपायुक्तों को पर्यटकों और आम जनता को सावधानी से वाहन चलाने के सम्बन्ध में दिशा-निर्देश जारी करने को भी कहा। उन्होंने लोगों से बर्फबारी के दौरान सचेत रहने तथा सरकार व प्रशासन को सहयोग करने की अपील की।

उन्होंने कहा कि जिन सड़कों पर बर्फबारी व फिसलन के कारण यातायात परिचालन में बाधा आती है वहां समुचित मात्रा में मशीने तैनात की जाएं, ताकि यातायात को समयबद्ध बहाल किया जा सके।

मुख्यमंत्री ने राज्य विद्युत बोर्ड के अधिकारियों को विद्युत आपूर्ति बाधित क्षेत्रों में आपूर्ति जल्द-से-जल्द बहाल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि संचार सुविधाएं प्रदान करने वाले संस्थानों में निरंतर विद्युत आपूर्ति बनाए रखने के लिए भी दृढ़ प्रयास किए जाएं क्योंकि संचार माध्यम आपदा के बेहतर प्रबन्धन के लिए नितान्त आवश्यक है।

जय राम ठाकुर ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को बर्फबारी के कारण बाधित जलापूर्ति व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश दिए।

उन्होंने आवश्यक सुविधाओं की शीघ्र बहाली के लिए सभी विभागों को एक-दूसरे से विभिन्न स्तरों पर बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *