हिमाचल में भारी हिमपात लगभग 800 से ज्यादा सडकें बंद, कई क्षेत्रों में बिजली-पानी का संकट गहराया

हिमाचल में भारी हिमपात, लगभग 800 से ज्यादा सडकें बंद, कई क्षेत्रों में बिजली-पानी का संकट गहराया

शिमला: हिमाचल में हुई भारी बर्फबारी का सैलानियों ने शिमला, मनाली, कुफरी, डलहौजी सहित कई अन्य क्षेत्रों में खूब लुत्फ उठाया। लेकिन वहीं हिमाचल में भारी बर्फबारी होने से सूबे में पांच नेशनल हाइवे समेत 879 सड़कें बंद हो गई। राजधानी शिमला में 40, मनाली में 45 और डलहौजी शहर में 50 सेंटीमीटर तक बर्फबारी रिकॉर्ड हुई। पारा माइनस में होने से जनजीवन जम गया है। 800 से ज्यादा ट्रांसफार्मर खराब होने से प्रदेश के कई क्षेत्रों में बिजली संकट गहरा गया है। सैकड़ों पेयजल योजनाएं के जमने से पीने के पानी की किल्लत होनी शुरू हो गई है। कई क्षेत्रों में भूस्खलन होने से रास्तों में एचआरटीसी की दर्जनों बसें फंस गई हैं। शिमला शहर सहित प्रदेश के कई क्षेत्रों का संपर्क कट गया है।

सोलन और रामपुर शहर में भी बुधवार को कई सालों बाद बर्फबारी हुई। प्रदेश में बुधवार को भारी बर्फबारी होने से सूबे में पांच नेशनल हाइवे समेत 879 सड़कें बंद हो गई हैं। राजधानी शिमला में 40, मनाली में 45 और डलहौजी शहर में 50 सेंटीमीटर तक बर्फबारी दर्ज हुई। वहीं, सोलन शहर में एक दशक बाद बर्फबारी हुई। सोलन के अलावा चायल, बड़ोग, काली टिब्बा, धारों की धार व बाड़ीधार में भी बर्फबारी दर्ज हुई। बर्फबारी के कारण सोलन उपमंडल में बुधवार को दिन भर बिजली गुल रही। वहीं रामपुर में सालों बाद बर्फबारी देखने को मिली।

जिला चंबा के डलहौजी-खजियार में भी भारी बर्फबारी हुई है। जिला में करीबन 70 ट्रांसफार्मर बंद होने से बिजली गुल हो गई है। जिला कांगड़ा के दुर्गम क्षेत्र मुल्थान तहसील व बरोट के कई गांवों में भी बिजली न होने का समाचार है। इसके अलावा धौलाधार की पहाड़ियों, भागसूनाग, नड्डी और धर्मकोट में भी बर्फबारी हुई।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *