कुल्लू : तीन दर्जन अभ्यर्थियों को नहीं दिया गया परीक्षा केंद्र में प्रवेश, परीक्षा रद्द करने की मांग

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में कार्यरत मेधावी विद्यार्थियों से मांगे आवेदन, अन्तिम तिथि 15 जनवरी

“मेधा प्रोत्साहन योजना” के अंतर्गत मांगे आवेदन

शिमला : उच्चत्तर शिक्षा विभाग ने ‘मेधा प्रोत्साहन योजना’ के अंतर्गत प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में कार्यरत मेधावी विद्यार्थियों से आवेदन आमंत्रित किए हैं। यह जानकारी शिक्षा निदेशक उच्चत्तर डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने आज यहां दी। यह आवेदन राज्य एवं राज्य के बाहर उच्चत्तर शिक्षा विभाग द्वारा चिन्हित संस्थानों में प्रशिक्षण ले रहे विद्यार्थियों से सीएलएटी/एनईईटी/आईआईटी-जेईई/एआईआईएमएस/एएफएमसी/एनडीए इत्यादि एवं यूपीएससी/एसएससी/बैकिंग/बीमा और रेलवे इत्यादि की परीक्षाओं के लिए आमंत्रित किए गए हैं।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन के लिए विद्यार्थी, हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए। अभ्यार्थी के परिवार की कुल आय 2.50 लाख प्रति वर्ष/गरीबी रेखा की आय से दौगुनी से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस योजना में चयनित विद्यार्थियों को जीवनकाल में अधिकतम एक लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। वित्तीय सहायता को विद्यार्थी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के दौरान अपने भरण-पोषण, संस्थान की फीस, किताबें तथा अन्य प्रकाशित सामग्री पर खर्च करेगा।

निर्धारित तिथि के उपरांत प्राप्त होने वाले आवेदनों पर विचार नहीं किया जाएगा। योजना से सम्बन्धित पूर्ण जानकारी शिक्षा निदेशक उच्चत्तर हिमाचल प्रदेश की वेबसाइट  www.educationhp.org पर उपलब्ध है।

इस योजना के तहत आवेदन की अन्तिम तिथि 25 दिसम्बर से बढ़ाकर 15 जनवरी, 2020 की गई है। इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए इच्छुक एवं पात्र विद्यार्थी अपना आवेदन पत्र निर्धारित तिथि तक शिक्षा निदेशक उच्चत्तर, हिमाचल प्रदेश, शिमला-171001 के कार्यालय में डाक द्वारा या ई-मेल medha.protsahan@gov.in के माध्यम से भेज सकते हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *