मुख्यमंत्री ने शिमला शहर के लिए किए 525 करोड़ की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

मुख्यमंत्री ने शिमला शहर के लिए किए 525 करोड़ की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

  • स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 17.36 करोड़ रुपये की लागत से आईजीएमसी शिमला से संजौली तक सड़क  किनारे बनेगा कवर्ड फुटपाथ
  • शिमला वासियों के साथ-साथ पर्यटकों को भी मिलेगी कई सुविधाएं

शिमला : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला शहर में 525 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए। उन्होंने शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 17.36 करोड़ रुपये की लागत से आईजीएमसी से संजौली तक स्मार्ट पैदल यात्री पथ व शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 32 करोड़ रुपये की लागत से बहु-मंजिला पार्किंग व आईजीएमसी की नई ओपीडी के लिए लिंक रोड का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने 70 करोड़ रुपये की लागत से शिमला के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, चाबा (कोल डैम) तथा मौजूदा गुम्मा पंप स्टेशन के संवर्धन कार्य का लोकार्पण तथा 406 करोड़ रुपये की लागत से सतलुज नदी से शिमला शहर के लिए पेयजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिमला शहर के लिए 406 करोड़ रुपये की महत्त्वाकांक्षी पेयजल आपूर्ति योजना का निर्माण कार्य 2022 तक पूर्ण होगा। इस योजना से शिमला शहर को 67 एम.एल.डी. पेयजल की आपूर्ति होगी और इससे वर्ष 2050 तक शिमला के लिए पर्याप्त मात्रा में पेयजल उपलब्ध होगा। जय राम ठाकुर ने कहा कि चाबा (कोल डैम)-शिमला उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना जिसका कि आज विधिवत रूप से लोकार्पण हुआ है, इससे शिमला शहर के लिए रोजाना 10 एम.एल.डी. अतिरिक्त पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित हो रही है। उन्होंने कहा कि ये दोनों पेयजल आपूर्ति योजनाएं शिमला शहर के लिए वरदान सिद्ध होंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 17.36 करोड़ रुपये की लागत से आईजीएमसी शिमला से संजौली तक सड़क के किनारे (घाटी की तरफ) कवर्ड फुटपाथ बनाया जा रहा है। इससे शिमला वासियों के साथ-साथ यहां भ्रमण पर आने वाले पर्यटकों को भी सुविधा प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि इस स्मार्ट फुटपाथ में स्पीकर सुविधा वाले स्मार्ट पोल, सी.सी.टी.वी., लाइटिंग और वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध होगी। फुटपाथ के किनारे पर डिजीटल साईनेज और बंदरों को दूर रखने वाले उपकरण भी स्थापित किए जाएंगे।

जय राम ठाकुर ने कहा कि बहु-मंजिला पार्किंग परिसर और आईजीएमसी के नए ओ.पी.डी. ब्लॉक के लिए सम्पर्क सड़क के माध्यम से 420 वाहनों के लिए पार्किंग की सुविधा उपलब्ध होगी और इससे आईजीएमसी में पार्किंग की समस्या के निवारण में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस सम्पर्क के माध्यम से कार्ट रोड से आईजीएमसी के नए ओ.पी.डी. ब्लॉक तक आसानी से पहुंचा जा सकेगा। शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने नव वर्ष के मौके पर विभिन्न विकास कार्यों के शिलान्यास और लोकार्पण के लिए मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *