शिमला: सात दिन बाद घर के पास खेत से मिला लापता 90 वर्षीय बुजुर्ग महिला का शव

शिमला: सात दिन बाद घर के पास खेत से मिला लापता 90 वर्षीय बुजुर्ग महिला का शव

शिमला: एक सप्ताह से लापता 90 साल की बुजुर्ग महिला की लाश घर के पास खेत से मिली है।  मामला हिमाचल की राजधानी शिमला के जुन्गा की पीरन पंचायत का है।  पीरन पंचायत के ट्रहाई गांव से लापता का वृद्ध महिला मेहंदी का शव शुक्रवार अपने ही घर के समीप खेत में मिला। महिला की टांग का एक हिस्सा जंगली जानवरों द्वारा नोंच हुआ मिला है। सूचना मिलते ही शिमला के एडिशनल एसपी प्रवीर ठाकुर सुबह दस बजे पुलिस टीम और डॉग स्कवायड के साथ मौके पर पहुंचे और शव अपने कब्जे में ले लिया था। मौके से फोरेंसिक टीम ने  भी साक्ष्य एकत्रित किए हैं। पुलिस ने मेहंदी के शव को पोस्टमार्टम के लिए आईजीएमसी भेजा है. एडिशनल एसपी प्रवीर सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम की रिर्पोट के बाद सभी तथ्य स्पष्ट हो पाएंगे। 90 साल की बुजुर्ग छह दिन दिन से लापता थी। स्थानीय लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर घर के आसपास खेत, झाड़ियों, ढांक और गिरि नदी के साथ लगते क्षेत्रों का चप्पा-चप्पा छान मारा था, लेकिन कहीं भी महिला का सुराग नहीं मिला था। 90 वर्षीय वृद्ध महिला 15 नवंबर की रात को घर से लापता हो गई थी। उसकी रजाई और कंबल कमरे के बाहर तथा लाठी और ऐनक बिस्तर पर मिली थी।

स्थानीय निवासी प्रीतम ठाकुर, देवेंद्र कुमार नंबरदार, सुरेश वर्मा, मनोहर सिंह, राम सरन, राजेन्द्र सिंह सहित अन्य ने कहा कि बुजुर्ग महिला का घर से लापता होना कोई गहरी साजिश है। उन्होने पुलिस से आग्रह किया कि घटना की निष्पक्षता और गहनता के साथ जांच की जाए। क्योंकि बुजुर्ग का रात को बिस्तर से गुम होना रहस्य है। बुजुर्ग के दत्तक पुत्र नारायण सिंह ने बताया कि प्रातः जब वह पशुओं के लिए घास पत्ती लाने के लिए खेत की ओर जा रहे थे तो उन्हें लगते खेत में महिला का शरीर मिला। इसकी सूचना जुन्गा पुलिस को दी गई थी। भतीजे सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि उन्हें पुलिस जांच पर पूरा भरोसा है और पुलिस इस संवेदनशील मामले में निष्पक्षता से जांच करेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *