शिमला में आपदा जोखिम प्रबंधन चुनौती पर दो दिवसीय कार्यशाला

शिमला में आपदा जोखिम प्रबंधन चुनौती पर दो दिवसीय कार्यशाला

अंबिका/शिमला: हिमाचल प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और विज्ञान, प्रौद्योगिकी, पर्यावरण, राज्य परिषद के संयुक्त तत्वावधान में 22 अक्तूबर से दो-दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जा रही है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर हालीडे होम में आयोजित की जा रही इस कार्यशाला का शुभारम्भ करेंगे। हिमालयी राज्यों के अधिकारियों सहित अन्य प्रतिभागी भी इस कार्यशाला में भाग ले रहे हैं।

शिमला में आपदा जोखिम प्रबंधन चुनौती पर दो दिवसीय कार्यशाला

शिमला में आपदा जोखिम प्रबंधन चुनौती पर दो दिवसीय कार्यशाला

आपदा जोखिम प्रबंधन चुनौतीविषय पर आयोजित इस कार्यशाला का आयोजन उत्तराखण्ड, जम्मू और कश्मीर, केन्द्र शासित लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के हितधारकों के लिए किया जा रहा है जिसमें लगभग 50 प्रतिनिधि भाग लेंगे।  इस कार्यशाला के आयोजन का मुख्य उद्देश्य पहाड़ी क्षेत्रों और कस्बों में आपदा जोखिम से जुड़े मुद्दों के बारे में चर्चा करना और विशेष उपायों के द्वारा इन चुनौतियों का हल निकालना है।

इस अवसर पर शहरी विकास, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग, हाउसिंग मंत्री सरवीण चैधरी गैस्ट ऑफ ऑनररहेंगी। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, गृह मंत्रालय भारत सरकार के सदस्य कमल किशोर भी गैस्ट ऑफ ऑनर रहेंगे और मुख्य व्याख्यान देंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *