राज्य सरकार की एक और पहल: जन शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए “मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100” का शुभारम्भ

राज्य सरकार की एक और पहल: जन शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए “मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100” का शुभारम्भ

  • हेल्पलाइन सप्ताह के छः दिन प्रातः 7 बजे से सायं 10 बजे तक करेगी कार्य
  • हेल्पलाइन को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी विभाग देगा अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रशिक्षण : निदेशक, सूचना प्रौद्योगिकी रोहन चंद ठाकुर

रीना ठाकुर/शिमला: आधुनिक तकनीक के उपयोग से जन शिकायतों का त्वरित एवं समयबद्ध आधार पर समाधान करने के लिए मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100 का शुभारम्भ मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार का मुख्य ध्येय जन सेवा और सरकार द्वारा लोगों की समस्याओं, शिकायतों और विभिन्न मुद्दों का शीघ्रता और समयबद्ध आधार पर समाधान करना है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पहले ही समस्याओं के समाधान के लिए जनमंच शुरू किया है, जिसके माध्यम से अब तक    35 हजार से भी अधिक शिकायतों का निवारण किया जा चुका है। अब राज्य सरकार ने एक और पहल करके इस हेल्पलाइन को शुरू किया है ताकि लोगों को शिकायतों के समाधान के लिए अब जनमंच में भी न जाना पड़े। 

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सूचना प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा अन्य तीन राज्यों में चल रही हेल्पलाइन की श्रेष्ठ तकनीक को अपनाया है ताकि यह हेल्पलाइन पूरे देश में श्रेष्ठ साबित हो सके। उन्होंने कहा कि प्रदेशवासी अब दूरभाष के माध्यम से घर बैठे अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं तथा अपनी शिकायतों के निवारण की प्रगति को आनलाइन भी देख सकते हैं। उन्होंने जानकारी दी कि 56 विभागों को जियो मैपिंग और जियो टैगिंग द्वारा इस हेल्पलाइन से जोड़ा गया हैं। उन्होंने कहा कि इससे सरकारी कार्यों की प्रक्रिया पेपरलैस हो जाएगी और लोगों को अपने छोटे-छोटे कार्यों के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर भी नहीं लगाने पड़ेंगे।

हेल्पलाइन सप्ताह के छः दिन प्रातः 7 बजे से सायं 10 बजे तक करेगी कार्य

हेल्पलाइन सप्ताह के छः दिन प्रातः 7 बजे से सायं 10 बजे तक करेगी कार्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार लोगों के रचनात्मक सुझावों को स्वीकार कर उन्हें राज्य के विकास के लिए उपयोग करेगी। उन्होंने कहा कि वह स्वयं इस हेल्पलाइन तथा जन मंच के कार्यों की समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि यह हेल्पलाइन सरकार के जन मंच के प्रयासों को और भी अधिक प्रभावशाली बनाने में मददगार सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि इस हेल्पलाइन से जुड़े सभी सदस्य विनम्र एवं सवंदेनशील होने चाहिए ताकि वे शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को आसानी से दर्ज कर सकें।

जय राम ठाकुर ने कहा कि 1100 हेल्पलाइन नम्बर को पूरे प्रदेश में प्रचारित किया जाएगा ताकि प्रत्येक व्यक्ति इस नम्बर से परिचित हो सके और इस सुविधा का अधिक से अधिक लाभ उठा सके। उन्होंने सभी मंत्रियों, निर्वाचित प्रतिनिधियों और अन्य पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वे मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100 का भरपूर प्रचार करें। उन्होंने कहा कि यह हेल्पलाइन सप्ताह के छः दिन प्रातः 7 बजे से सायं   10 बजे तक कार्य करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस को पूरा राष्ट्र    14 सितम्बर से 20 सितम्बर, 2019 तक ‘सेवा सप्ताह’ के रूप में मना रहा है। उन्होंने कहा कि सेवा सप्ताह के अवसर पर यह हेल्पलाइन राज्य के लोगों के लिए एक उपहार है।

सूचना, प्रौद्योगिकी एवं कृषि मंत्री डॉ. राम लाल मारकण्डा ने कहा कि प्रदेश का कोई भी नागरिक, किसी भी स्थान से अपने मोबाइल से इस हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करवा सकता है, जिसका निपटारा शीघ्र किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार उन अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही अमल में लाएगी, जो लोगों की शिकायतों के निपटारे में विलम्ब के लिए जिम्मेवार होंगे।

प्रधान सचिव सूचना प्रौद्योगिकी जे.सी. शर्मा ने मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर तथा इस अवसर पर उपस्थित गणमान्यों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इस हेल्पलाइन का उद्देश्य आधुनिक तकनीक के माध्यम से जन शिकायतों का प्रभावी ढंग से  शीघ्र निवारण करना है।

निदेशक, सूचना प्रौद्योगिकी रोहन चंद ठाकुर ने आभार व्यक्त करते हुए इस हेल्पलाइन की विभिन्न विशेषताओं की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अब तक यह सुविधा उत्तराखंड, मध्य प्रदेश तथा उत्तर प्रदेश राज्यों में उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि इस हेल्पलाइन को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *