अन्तरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा : नई पहल के तहत मेले के दौरान स्थानीय वाद्ययंत्रों से होगी आरती

अन्तरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा : नई पहल के तहत मेले के दौरान स्थानीय वाद्ययंत्रों से होगी आरती

  • मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में कुल्लू दशहरा की बैठक आयोजित, सांस्कृतिक कार्यक्रमों में स्थानीय प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने के निर्देश

रीना ठाकुर/शिमला: अन्तरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव की तैयारी सम्बन्धी राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक की मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला में अध्यक्षता की। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां 8 अक्तूबर से 14 अक्तूबर, 2019 तक सप्ताहभर चलने वाले महोत्सव को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि कुल्लू दशहरा देश के लोगों के लिए एक महत्त्वपूर्ण आयोजन है और इसकी सांस्कृतिक विरासत को बनाए रखा जाना चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि हिमाचली कलाकारों को इस आयोजन में भाग लेने के पर्याप्त अवसर दिए जाने चाहिए ताकि स्थानीय कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने और इसे निखारने का उपयुक्त अवसर प्राप्त हो सके।

मुख्यमंत्री ने ग्रामीण खेल गतिविधियों को आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान कबड्डी और वॉलीबॉल जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। उन्होंने निर्देश दिए कि मेले के दौरान निरतंर विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 24 घण्टे जेनरेटर की सुविधा उपलब्ध करवाई जाए।

उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय दलों व बाहरी राज्यों से आने वाले कलाकारों की उचित देखरेख होनी चाहिए और कानून व्यवस्था को बनाए रखने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए इस वर्ष नई पहल करते हुए मेले के दौरान स्थानीय वाद्ययंत्रों से आरती का आयोजन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रशासन को वर्तमान सरकार द्वारा शहर के सौन्दर्यकरण के लिए आरम्भ किए गए कार्यो की देखरेख करने व लोगों के आवागमन, यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए सरवरी-सुल्तानपुर-ढालपुर के बीच बने ऊपरी पुल जैसे वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग करने के निर्देश दिए।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *