विधानसभा मानसून सत्र: सरकार को घेरने की कोशिश करेगा विपक्ष..देखें वीडयो

भाजपा ध्यान भटकाने के लिए लगा रही है कांग्रेस के विधायक पर नशा तस्कर को संरक्षण के झूठे आरोप :कांग्रेस

शिमला: ऊना क्षेत्र के निकटवर्ती पेखूबेला गांव में सोमवार देर रात शराब माफिया पर कार्रवाई के दौरान पुलिस टीम पर ही हमले का मामला सामने आने से प्रदेश में सियासत भी गरमाने लगी है। घटना में हमलावर कांग्रेस विधायक सतपाल रायजादा के पीएसओ और चालक बताये जा रहे हैं। वहीं मामले को लेकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने विधायक सतपाल रायजादा का बचाव करते हुए कहा कि भाजपा जनता का ध्यान भटकाने के लिए कांग्रेस के विधायक पर नशा तस्कर को संरक्षण के झूठे आरोप लगा रही है जो कि सरासर गलत है। ऊना सदर के कांग्रेस विधायक सतपाल रायजादा ने पहले भी नशा व खनन तस्करों के खिलाफ आवाज़ उठाई थी और तस्करों के विरोध में ऊना के पुलिस अधीक्षक का घेराव भी किया था। राठौर ने कहा कि उनकी मामले को लेकर विधायक से बात हुई है और विधायक हर पुलिस जांच करवाने के लिए तैयार है । भाजपा के आरोप निराधार हैं।

  • मेरे ऊपर कोई आरोप साबित होते हैं तो मैं खुद ही विधायक पद से इस्तीफा दे दूंगा : सतपाल रायजादा

ऊना: शराब तस्कर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हुए हमले के मामले में अपने स्टाफ पर लगे आरोपों के बाद भाजपा के निशाने पर आए ऊना सदर से कांग्रेस विधायक सतपाल रायजादा ने ऊना में पत्रकार वार्ता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि पुलिस की जिस तरह की कार्रवाई हुई है, उससे प्रतीत होता है कि सरकार और पुलिस द्वारा खनन और नशा माफिया के खिलाफ मेरे द्वारा उठाई गई आवाज को दबाने के लिए पूरी कार्रवाई को अंजाम दिया गया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर उनकी गाड़ी से शराब पकड़े जाने का दुष्प्रचार करने वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत का दावा किया है। वहीं भाजपा द्वारा उनकी विधानसभा से सदस्यता रद्द करने की मांग पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि अगर मेरे ऊपर कोई आरोप साबित होते हैं तो मैं खुद ही विधायक पद से इस्तीफा दे दूंगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *