हिमाचल मंत्रिमंडल निर्णय...

हिमाचल मंत्रिमंडल निर्णय…

  • शिमला: मंत्रिमंडल ने आज यहां अपनी बैठक में कुल्लू जिले के बंजार में हुए बस हादसों पर शोक व्यक्त किया जिसमें 44 लोग मारे गए और शिमला शहर के जंजहिरी में हाल ही में दो स्कूली लड़कियों और बस के चालक की जान चली गई। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बैठक की अध्यक्षता की।
  • मंत्रिमंडल ने राज्य में सड़क सुरक्षा कानूनों के उचित प्रवर्तन को सुनिश्चित करने के लिए परिवहन निदेशालय में निदेशक / आयुक्त, परिवहन के नेतृत्व में लीड एजेंसी / रोड सेफ्टी सेल स्थापित करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी। सेल राज्य में सड़क सुरक्षा गतिविधियों की निगरानी करेगा और इसमें पुलिस, पीडब्ल्यूडी, शिक्षा और स्वास्थ्य विभागों के विशेषज्ञ के अलावा अन्य सहायक कर्मचारी शामिल होंगे।
  • चंबा जिले की कठिन स्थलाकृति को ध्यान में रखते हुए और पं। में सेवा करने के लिए संकायों को प्रोत्साहित करना। जवाहर लाल नेहरू सरकारी मेडिकल कॉलेज, चंबा, मंत्रिमंडल ने रुपये का प्रोत्साहन प्रदान करने का निर्णय लिया। 50,000 से प्रोफेसर, रु। एसोसिएट प्रोफेसर के लिए 30,000 और रु। अनुबंधित परिलब्धियों के ऊपर और ऊपर सहायक प्रोफेसर को प्रति माह 20,000। रुपये का प्रोत्साहन प्रदान करने का भी निर्णय लिया। 15000 प्रति माह ट्यूटर्स और वरिष्ठ रेजिडेंट डॉक्टरों को इस मेडिकल कॉलेज में सेवा देने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए।
  • इसने राज्य में एक नई scheme सहारा ’योजना शुरू करने के लिए अपनी मंजूरी दी, जिसके तहत रु। चिन्हित गंभीर बीमारियों से पीड़ित आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के रोगियों को प्रति माह 2000 प्रदान किया जाएगा। यह इन बीमारियों से पीड़ित रोगियों को वित्तीय सहायता, सहायता और सामाजिक सुरक्षा उपायों को सुनिश्चित करेगा।
  • मंत्रिमंडल ने निर्णय लिया कि परिवहन विभाग द्वारा सोलन में एक ट्रांसपोर्ट नगर की स्थापना की जाएगी, जिसके लिए शहरी विकास विभाग के पास उपलब्ध भूमि परिवहन विभाग को हस्तांतरित की जाएगी।
  • मंत्रिमंडल ने राज्य में वन संपदा के उचित संरक्षण और संरक्षण को सुनिश्चित करने के लिए अनुबंध आधार पर वन विभाग में वन रक्षकों के 113 पदों को भरने का निर्णय लिया।
  • मंत्रिमंडल ने सीधी भर्ती के माध्यम से अनुबंध के आधार पर स्थानीय लेखा परीक्षा विभाग में जूनियर लेखा लेखा परीक्षक के 14 पदों को भरने का भी निर्णय लिया।
  • इसने इस संस्था को बनाने के लिए कांगड़ा जिले के ढलियारा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने और इस पद को भरने के लिए अपनी सहमति भी दी।
  • इसने डॉ। राधाकृष्णन गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, हमीरपुर में विभिन्न विभागों में सहायक प्राध्यापकों के 15 पदों को भरने के लिए नियमित रूप से एच.पी. इस मेडिकल कॉलेज के सुचारू कामकाज को सुनिश्चित करने के लिए लोक सेवा आयोग।
  • मंत्रिमंडल ने इस केंद्र के लिए विभिन्न श्रेणियों के 18 पदों के सृजन और भरने के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सुलह को जिला कांगड़ा में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अपग्रेड करने के लिए अपनी मुहर लगा दी।
  • इस स्वास्थ्य संस्थान के समुचित कार्य को सुनिश्चित करने के लिए डॉ। यशवंत सिंह परमार गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, नाहन में विभिन्न विभागों में सहायक प्रोफेसरों के 14 पदों को भरने का निर्णय लिया गया।
  • मंत्रिमंडल ने अपने बेहतर कामकाज के लिए अपेक्षित पदों के सृजन के साथ टाउन प्लानिंग ऑफिस पालमपुर को सब डिविजनल टाउन प्लानिंग ऑफिस में अपग्रेड करने का निर्णय लिया।
  • मंत्रिमंडल ने राज्य के नगर परिषदों में स्वच्छता निरीक्षकों के छह पदों को भरने के लिए इन नगर परिषदों में उचित स्वच्छता को भरने के लिए अपनी मंजूरी दी।
  • इसने सीधी भर्ती के माध्यम से कृषि विभाग में अनुबंध के आधार पर सांख्यिकी सहायक के 19 पदों को भरने का निर्णय लिया।
  • इसने हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से अनुबंध के आधार पर कृषि विभाग में जूनियर कार्यालय सहायक (आईटी) के 10 पदों को भरने का भी निर्णय लिया।
  • मंत्रिमंडल ने अनुबंध के आधार पर सीधी भर्ती के माध्यम से सिंचाई और जन स्वास्थ्य विभाग में स्टेनो टाइपिस्ट के 40 पदों को भरने के लिए अपनी मंजूरी दे दी।
  • इसने सुल्लाह में सिंचाई और जन स्वास्थ्य विभाग के नए सब डिवीजन और कांगड़ा जिले के ठाकुरद्वारा में नए खंड के साथ-साथ आवश्यक पदों को खोलने के लिए अपनी अनुमति दी।
  • मंत्रिमण्डल ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग में चतुर्थ श्रेणी की विभिन्न श्रेणियों के 1026 पदों को पम्प अटेंडेंट के रूप में परिवर्तित करने तथा पात्र जल रक्षकों को भर्ती एवं पदोन्नति नियमों के अनुरूप इन पदों पर अनुबंध आधार पर नियुक्त करने का निर्णय लिया।
  • बैठक में कार्यशील पत्रकार की मृत्यु की स्थिति में पत्रकार कल्याण योजना के अंतर्गत उसके परिवार के सदस्यों को वित्तीय सहायता दो लाख रुपये से बढ़ाकर चार लाख रुपये करने का निर्णय लिया गया है। सेवानिवृत्त पत्रकारों के लिए यह वित्तीय सहायता 50 हजार रुपये से बढ़ाकर एक लाख रुपये की गई है।
  • प्रदेश की अत्यन्त संवेदनशील 200 बीट में कार्यरत वन रक्षकों को हथियारों की खरीद के लिए अनुदान राशि 12 हजार रुपये से बढ़ाकर अधिकतम 15 हजार रुपये करने का निर्णय लिया गया है।
  • हाल ही में खोले गए अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र न्यायालय नालागढ़ तथा सिविल कोर्ट बंजार, तीसा व शिलाई के लिए रिकॉर्ड कीपर के चार पद सृजित करने को स्वीकृति प्रदान की गई।
  • मंत्रिमण्डल ने मण्डी ज़िला के सुन्दरनगर में अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र न्यायालय और कांगड़ा ज़िला के जयसिंहपुर में सिविल कोर्ट स्थापित करने के लिए अपनी सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान की।
  • पुलिस विभाग में 79 मोटर साईकिल, 25 छोटे वाहन, 7 मिनी बसें, एक बड़ी बस और दो ट्रक खरीदने की स्वीकृति भी प्रदान की गई है।
  • बैठक में प्रदेश उच्च न्यायालय में सीधी भर्ती के माध्यम से सिविल जज के पांच पद भरने को स्वीकृति प्रदान की।
  • प्रदेश के बेरोज़गार युवाओं को कृषि क्षेत्र में आजीविका के अवसर उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से मंत्रिमण्डल ने मुख्यमंत्री खुम्ब विकास योजना लागू करने तथा इसे हिमाचल खुम्ब विकास योजना के नाम से पुनर्नामित करने का निर्णय लिया है। इस योजना के अंतर्गत मशरूम उत्पादन अपनाने वाले सभी श्रेणी के किसानों को सहायता प्रदान की जाएगी जो कृषि विभाग के साथ पंजीकृत हैं।
  • मंत्रिमण्डल ने 40 मैगावाट क्षमता वाले बग्गी हाईड्रो पावर हाउस के निष्पादन के लिए इसे भाखड़ा ब्यास प्रबन्धन बोर्ड को आवंटित करने का निर्णय लिया है।
  • पूर्व सैनिकों को रोज़गार के बेहतर अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से निर्णय लिया गया है कि भविष्य में उन्हें होमगार्ड के स्थान पर परिवहन विभाग के 12 आरटीओ बैरियरों में तैनात किया जा सकता है।
  • बिलासपुर ज़िला के डोला व झिड़िया, कांगड़ा ज़िला के खाबली, मण्डी ज़िला के भमसोई, गरलोग, कशोड़, नरवंडी और कूट माध्यमिक स्कूल को उच्च विद्यालय के रूप में स्तरोन्नत करने का निर्णय लिया गया है। इसी प्रकार मण्ड़ी ज़िला के नन्दी व छम्यार उच्च विद्यालयों को आवश्यक स्टाफ के सृजन व इन्हें भरने के साथ वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के रूप में स्तरोन्नत करने को स्वीकृति प्रदान की गई है।
  • मंत्रिमण्डल ने जिला मण्डी के राजकीय प्राथमिक पाठशाला, कुकलाह को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने तथा इस विद्यालय में आवश्यक पदों को सृजित करने एवं भरने की स्वीकृति प्रदान की।
  • मंत्रिमण्डल ने विधायक निधि को मौजूदा 7 लाख रुपये से बढ़ाकर 8 लाख रुपये प्रति वर्ष करने का निर्णय लिया।
  • मंत्रिमण्डल ने जिला मण्डी के नए सृजित विकास खण्ड बालीचौकी में पंचायत निरीक्षक और उप-निरीक्षक (पंचायत) के पद सृजित करने का निर्णय लिया है। जिला शिमला के विकास खण्ड कुपवी में उप-निरीक्षक के पद को सृजित करने का निर्णय भी लिया गया है।
  • समाप्त

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *