हिमाचल ने महिन्द्रा ग्रुप के साथ किए 300 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

हिमाचल ने महिन्द्रा ग्रुप के साथ किए 300 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

  • मुख्यमंत्री ने मुम्बई में की प्रतिष्ठित उद्योगपतियों से मुलाकात

रीना ठाकुर/शिमला: राज्य सरकार ने आज मुम्बई में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की उपस्थिति में सोलन जिले के कंडाघाट, मंडी जिले के जंजैहली, कौलडैम और धर्मशाला में महिन्द्रा रिजोर्ट में निवेश के लिए मै. महिन्द्रा रिजोर्ट के साथ 300 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर महिन्द्रा होलीडेज व रिजोर्टस के अध्यक्ष अरुण नंदा भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने मुम्बई के उद्योग घरानों के प्रतिनिधियों व प्रमुखों के साथ बिजनेस टू गवर्न्मन्ट (बी2जी) बैठक भी की। उन्होंने आरपीजी इंटरप्राईज के अध्यक्ष हर्ष गोयंका से मुलाकात कर जिला सोलन के वाक्नाघाट के आई.टी पार्क में निवेश के बारे में चर्चा की। हर्ष गोयंका ने कहा कि उनकी कंपनी प्रदेश में रबड व चाय की खेती को लेकर निवेश की संभावनाएं तलाश रही है क्योंकि उनकी कंपनी इस क्षेत्र में है। कंपनी राज्य में संभावित विकल्प तलाश रही है। सरकार ने उन्हें सुझाव दिया कि हिमाचल प्रदेश कान्ट्रेक्ट फारमिंग के लिए अनुकूल है।

जय राम ठाकुर ने डी.पी वर्ल्ड के प्रतिनिधियों से मुलाकात की जिन्होंने बद्दी में लॉजीस्टिक सेक्टर और ड्राई पोर्ट में निवेश में रुचि दिखाई। राज्य सरकार ने डी.पी वर्ल्ड से लॉजीस्टिक सेक्टर को लेकर प्रस्ताव पेश करने का सुझाव दिया ताकि बद्दी क्षेत्र में लॉजीस्टिक पार्क की संभावना खोजी जा सके।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने चीफ कांउसंल इंडिया और एएमईए, मोनडेलिज़ी इंडिया, स्री पटेल, सीओओ यूनाईटेड फोस्फोरस लिमिटेड सागर कौशिक से एक-एक करके मुलाकात की। कंपनी बागवानी के साथ-साथ सेब और संतरे की खरीद कर उन्हें खुदरा व्यापारियों को वितरण का व्यापार भी करती है। उन्होंने भारत में उनके उत्पादों और विस्तार के बारे में मुख्यमंत्री को एक प्रस्तुति दी। कंपनी हिमाचल प्रदेश में वर्तमान में खरीदे जा रहे फलों की शैल्फ लाईफ बढ़ाने के लिए फसल उपरांत प्रौद्योगिकी को विकसित करने की संभावनाएं खोज रही है। कंपनी ने सेब की खरीद के लिए हिमाचल में मौजूद सुविधा के पांच गुना विस्तार का प्रस्ताव रखा।

जय राम ठाकुर ने फूड एण्ड इनस लिमिटेड के अध्यक्ष भूपेन्द्र दलाल से भी मुलाकात की। कंपनी आम का पल्प के निर्यात से संबंध रखती है और खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में निवेश की संभावनाएं खोज रही है।

मुख्यमंत्री ने एसीसी लिमिटेड के सीईओ व एमडी नीरज अखौरी से जिला चम्बा में विस्तार योजनाओं के बारे में चर्चा की। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने रिलाइंस ग्रुप के कार्यकारी निदेशक निखिल मीसवानी से मुलाकात कर रिटेल, कृषि विपणन और ‘हॉसपिटेलिटि’ आदि के बारे में चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने निवेशकों को धर्मशाला में होनी वाली ग्लोबल इंवेस्टस मीट में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *