पांवटा: आखिर कब तक विभागों की कछुआ गति की वजह से जनता होती रहेगी परेशान

पांवटा: आखिर कब तक विभागों की कछुआ गति की वजह से जनता होती रहेगी परेशान

डॉ. प्रखर गुप्ता/ पांवटा: पावंटा साहिब के गुरुद्वारा में रोज़ काफी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। गुरुद्वारा में माथा टेकने के बाद माँ यमुना के दर्शन को जाते हैं। लेकिन आजकल यमुना जाने वाले रास्ते पर सीवरेज का पानी सड़क पर बह रहा है, जिस कारण श्रद्धालुओं को इस गंदे पानी में नंगे पैर चलने को मजबूर होना पड़ रहा है। वहीं दुकानदारों को भी काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। ज्ञात हो बरसात का सीजन नजदीक है और यह गंदगी लोगों के स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसान पहुंचा सकती है। जब इस बारे में नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उनके विभाग ने आईपीएच विभाग के लिए काफी समय पहले सीवरेज लाइन को चौड़ा करने के लिए बजट आबंटित कर दिया है।

उधर जब इस बाबत आईपीएच विभाग के एक्सईएन अश्वनी धीमान से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि बजट नगर निगम से आ गया है एवं निविदा आमंत्रित कर दी गई है, शीघ्र ही निविदा प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। अब सवाल यह उठता है कि जब नगर परिषद से आईपीएच विभाग को काफी समय पहले बजट मिल गया था तो आईपीएच विभाग कछुआ गति से क्यों चल रहा था? आखिर कब तक विभाग अपनी जिम्मेदारी एक दूसरे पर थोपते रहेंगे और जनता कब तक परेशान होती रहेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *