बस हादसे के घायलों का हाल जानने कुल्लू पहुंचे मुख्यमंत्री, ओवरलोडिंग को रोकने के लिए अब होगी सख्ती : सीएम

बस हादसे के घायलों का हाल जानने कुल्लू पहुंचे मुख्यमंत्री, ओवरलोडिंग को रोकने के लिए अब होगी सख्ती : सीएम

कुल्लू : जिला कुल्लू के बंजार में गत वीरवार को हुए बस हादसे में घायल व्यक्तियों का कुशल-क्षेम जानने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज कुल्लू के क्षेत्रीय अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों से बातचीत की तथा उन्हें आश्वासन दिया कि सरकार उन्हें बेहतर उपचार सुविधाएं सुनिश्चित करेगी। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की।

उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कुल्लू एवं चिकित्सक दल को निर्देश दिए कि यदि गंभीर रूप से घायल किसी भी व्यक्ति को रैफर करने की आवश्यकता है, तो तुरंत बेहतर उपचार के लिए रैफर कर दिया जाए।

इसके उपरांत, पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक दुःखद हादसा है, जिसने समूचे प्रदेश को झकझोर दिया है। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम के लिए 39 शवों को वीरवार सायं कुल्लू अस्पताल लाया गया था और तीन शवों की पहचान नहीं हो सकी है, जिसके अतिरिक्त अन्य शवों को उनके परिवारजनों को सौंप दिया गया है। उन्होंने कहा कि 37 घायल व्यक्तियों को प्राथमिक उपचार के बाद कुल्लू अस्पताल रैफर किया गया था, जिनमें से पांच लोगों की मृत्यु हुई है, जिनमें एक पर्यटक भी शामिल है।

उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से घायल आठ व्यक्तियों को वीरवार को ही पीजीआई चण्डीगढ़ के लिए रैफर किया गया था तथा इसके अलावा मध्य रात्रि में तीन अन्य घायल व्यक्तियों को पीजीआई रैफर किया गया। उन्होंने कहा कि पीजीआई रैफर किए गए घायल व्यक्तियों के साथ जिला प्रशासन से कर्मचारियों को उनकी सहायता के लिए भेजा गया है। इसके अलावा, पीजीआई में चिकित्सकों से संपर्क करके प्राथमिकता के आधार पर रैफर किए गए घायलों का यथासंभव बेहतरीन उपचार करने के लिए आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा फौरी राहत के रूप घायलों एवं मृतकों के परिवारों को 10.35 लाख रुपये की राशि वीरवार रात्रि तक वितरित कर दी गई थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बस दुर्घटना की मैजिस्ट्रियल जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं। कुल्लू के अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी की अध्यक्षता में जांच समिति का गठन किया गया है जो शीघ्र ही अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्घटना की सूचना मिलते ही वन व परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर तथा बंजार के विधायक सुरेन्द्र शौरी को तुरंत शिमला से कुल्लू के लिए रवाना किया गया ताकि वह राहत व उपचार कार्यों की स्वयं निगरानी कर सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार इस प्रकार के हादसों को रोकने के प्रति गंभीर है और इन्हें रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ओवर लोडिंग कर रहे बस के मालिकों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *