लोकसभा चुनाव : फिर उठने लगी पांगी क्षेत्र में वर्षों से चली आ रही सुरंग की मांग

लोकसभा चुनाव : फिर उठने लगी पांगी क्षेत्र में वर्षों से चली आ रही सुरंग की मांग

  • पांगी सुरंग संघर्ष समिति करेगी लोकसभा चुनावों का बहिष्कार

शिमला : लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे करीब आ रहे हैं प्रदेश के लोगों की चुनाव के नजदीक आने से नाराजगी भी जाहिर होनी शुरू होने लगी है। जिसके चलते प्रदेश के चंबा जिले के पांगी क्षेत्र में कई सालों से चली आ रही लोगों की तीसा के हेलटीवा से पांगी के मिन्दल तक करीब 6 किलोमीटर सुरंग की मांग एक बार फिर से उठने लगी है। जहां सर्दी के मौसम में भारी बर्फबारी के कारण पांगी घाटी पूरे देश दुनिया से कट जाती है वहीं लोगों की परेशानी भी इसके साथ बढ़ जाती है। हालांकि सभी राजनीतिक पार्टियां चुनाव के समय सुरंग के निर्माण के दावे तो करती हैं लेकिन चुनाव के बाद उन्हें कोई पार्टी पूरा नहीं करती। जिसके चलते पांगी सुरंग संघर्ष समिति ने आगामी लोकसभा चुनावों का पूरी तरह से बहिष्कार करने का निर्णय ले लिया है। पांगी सुरंग संघर्ष समिति के संयोजक हरीश शर्मा ने शिमला में जानकारी देते हुए बताया कि हर वर्ष 6 महीने के लिए पांगी बंद हो जाता है जिससे क्षेत्र के लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सबसे ज्यादा परेशानी स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में उठानी पड़ती है। मरीज की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो जाती है। केंद्र सरकार डिजिटल इंडिया की बात करती है लेकिन पांगी क्षेत्र में अभी भी दूरसंचार की सेवाए सही ढंग से बहाल नहीं हो सकी हैं। समिति के संयोजक ने बताया कि पांगी क्षेत्र के 30 हजार लोग सरकार की बेरुखी के कारण आज भी 50 वर्ष पहले जैसा ही बदहाली का जीवन व्यतीत करने को मजबूर है। सर्दियों में बर्फ से बंद पड़े रास्तों के बीच पांगी में लोगों की समस्याएं काफी बढ़ जाती हैं। खासकर स्वास्थ्य सेवाएं। सुरंग निर्माण से न केवल घाटी की जनता को समय पर उपचार मिलेगा अपितु सुरक्षा की दृष्टि से भी यह सुरंग फायदेमंद साबित होगी।

सुरंग निर्माण को लेकर पांगी घाटी के 43 प्रजामण्डलों ने भी अपना भरपूर समर्थन जाहिर किया है। पांगी क्षेत्र में प्रजामंडल को प्राचीन काल से देश के सर्वोच्च न्यायालय से भी ऊपर का दर्जा माना जाता है। सुरंग निर्माण से रक्षा मंत्रालय को भी फायदा होगा। समिति ने दिल्ली के जंतर-मंतर तक अपनी आवाज बुलंद करने की चेतावनी सरकार को दी है। पांगी सुरंग संघर्ष समिति ने कहा जो भी सरकार या प्रत्याशी सुरंग निर्माण को लेकर पांगी के लोगों को पक्का भरोसा दिलाता है, उसके साथ पांगी घाटी के लोग आजीवन भर साथ देंगे। वहीं सुरंग निर्माण को लेकर पांगी घाटी के प्रजामंडल ने भी अपना पूरा समर्थन जाहिर किया है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *