हिमाचल प्रदेश में गर्म पानी के चश्में, नाना प्रकार के औषधीय गुणों से युक्त हैं ये चश्में

हिमाचल प्रदेश में गर्म पानी के चश्में, कई प्रकार के औषधीय गुणों से युक्त हैं ये चश्में

हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक विविधता से भरपूर है। यहां कुल्लू, मण्डी और शिमला जिलों में गर्म पानी के चश्में पाए जाते हैं। यहां गर्म पानी के चश्में नाना प्रकार के औषधीय गुणों से युक्त है। इन चश्मों के गर्म पानी में कार्बन डाइऑक्साइड, हाइट्रोजन, क्लोरीन, हाइड्रोजन कार्बोनेट जैसे प्राकृतिक गैसीय अवयव तथा सोडियम, कैल्शियम, सल्फर, पोटैशियम, मैगनीशियम जैसे यौगिक तत्व पाए जाते हैं। हिमाचल प्रदेश में निम्रलिखित स्थानों पर गर्म पानी के चश्में हैं:-

  • मणिकर्ण

    मणिकर्ण

    विशिष्ट गर्म पानी के चश्में- यह गर्म पानी के चश्में ब्यास नदी के बाएं तट पर हैं। यहां गर्म पानी के दो चश्में हैं। एक चश्में का (क्वथनांक) ऊबालांक 123 डिग्री फारेनहाइट तथा दूसरे का 109 डिग्री फारेनहाइट आंका गया है। विशिष्ट गर्म पानी के चश्मों की कुल कठोरता 3.7 तथा स्थायी कठोरता 2.3 अंकित की गई है। यह गर्म पानी के चश्में मनाली से 4 किलोमीटर तथा सुल्तानपुर (कुल्लू) से 36 किलोमीटर की दूरी पर है

  • मणिकर्ण गर्म पानी के चश्में- यह गर्म पानी के चश्में पार्वती नदी के दाएं तट पर हैं। इन चश्मों का (क्वथनांक) ऊबालांक 45 डिग्री सेंटीग्रेड से 97 डिग्री सेंटीग्रेड तक है। इन चश्मों में गर्म पानी की कुल कठोरता 7.7 तथा स्थायी कठोरता 5.7 आंकी गई है। मणिकर्ण गर्म पानी के चश्में कुल्लू से 45 किलोमीटर तथा भुन्तर से 32 किलोमीटर दूर है।

    खीरगंगा

    खीरगंगा

  • कसोल और खीरगंगा गर्मपानी के चश्में- यह गर्म पानी के चश्में पार्वती नदी के दाएं तट पर समुद्रतल से 1640 मीटर की ऊंचाई पर है। मणिकर्ण से लगभग चार किलोमीटर की दूरी पर कसोल गर्म पानी के चश्में हैं। यहां से खीरगंगा गर्म पानी के चश्में कुछ दूरी पर हैं। इन गर्म पानी के चश्मों का (क्वथनांक) ऊबालांक मणिकर्ण से कम है।
  • कलथ गर्म पानी के चश्में- यह गर्म पानी का चश्मा सुल्तानपुर से 32 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर की ओर है। इस चश्में का (क्वथनांक) ऊबालांक 100 डिग्री फारेनहाइट मापा गया है।
  • तत्तापानी गर्म पानी के चश्में- यह गर्म पानी के चश्में मण्डी जिले के करसोग उपमण्डल में शिमला जिले के सुन्नी तहसील के समीप तत्तापानी में पड़ते हैं। यह चश्में सतलुज नदी के दाएं तट पर समुद्रतल से 656 मीटर की ऊंचाई पर है। इन गर्म पानी के चश्मों की कठोरता 5.7 मापी गई है। तत्तापानी गर्म पानी के चश्में शिमला से 51 किलोमीटर तथा नालदेहरा से 30 किलोमीटर दूर है। इन गर्म पानी के चश्मों के अलावा शिमला जिले के रामपुर उपमण्डल में ज्यूरी के समीप अन्नु नाला के दाएं किनारे पर भी गर्म पानी के चश्में हैं। इसी भांति कुल्लू जिले के कलथ के इर्द-गिर्द भी गर्मपानी के छुटपुट चश्में पाए जाते हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *