केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ऊना में पीजीआई सैटेलाईट केन्द्र की रखी आधारशिला

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ऊना में पीजीआई सैटेलाईट केन्द्र की रखी आधारशिला

ऊना : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी नड्डा ने आज ऊना जिला के मलहाट में 480 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले पीजीआई सैटेलाईट केन्द्र की आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 480 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाला यह संस्थान आगामी लगभग 40 महीनो में तैयार हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस संस्थान के बन जाने से प्रदेश के लोगों को उनके घरों के नज़दीक विश्व स्तरीय स्वास्थ्य देखभाल सुविधा सुनिश्चित होगी। उन्होंने कहा कि पीजीआई सैटेलाईट केन्द्र में 300 बिस्तरों की क्षमता होगी और पीजीआई चण्डीगढ़ के बराबर विशेषज्ञ स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार इस महत्त्वाकांक्षी परियोजना को निर्धारित समयावधि में पूरा करने के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने देश के लोगों को 5 लाख रुपये का बीमा कवर उपलब्ध करवाने के लिए आयुष्मान भारत योजना आरंभ की है ताकि धन के अभाव में आर्थिक रूप से कमज़ोर लोग विशेषज्ञ स्वास्थ्य देखभाल सुविधा से वंचित न रह पाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने ऐसे लोगों जो आयुष्मान भारत योजना के छूटें है के लिए ‘हिम केयर’ योजना आरंभ की है। लाभार्थी को इस योजना के तहत 5 लाख रुपये का बीमा छत्र प्राप्त करने के लिए एक हजार रुपये वार्षिक का योगदान देना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2019-2020 के बजट में राज्य सरकार ने गंभीर रूप से बीमार रोगियों के लिए ‘सहारा योजना’ आरंभ की है जिसके अंतर्गत बीमार व्यक्ति के परिवार को 2 हजार रुपये मासिक वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी ताकि रोगी की बेहतर देखभाल सुनिश्चित हो सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने दो माह पूर्व अपने कार्याकाल का एक वर्ष पूरा किया है। इस दौरान उन्होंने प्रदेश के लोगों की आकांक्षाओं व विकासात्मक आवश्यकताओं को समझने के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र का दौरा किया है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सुदृढ़ नेतृत्व में भारत विश्व शक्ति के रूप में उभरा है। उन्होंने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले तथा भारत द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में चल रहे आंतकी शिवरों पर एयर स्ट्राइक के चलते आज पाकिस्तान अलग-थलग पड़ गया है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के सशक्त व गतिशील नेतृत्व के कारण ही पाकिस्तान से विंग कमांडर अभिनंदन की शीघ्र वापसी संभव हुई।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार ने राज्य के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं स्वीकृत की है ताकि प्रदेश देश का सबसे प्रगतिशील राज्य बन सके। उन्होंने कहा कि अब नरेन्द्र मोदी के सुदृढ़ नेतृत्व में असंभव अब संभव है। उन्होंने कहा कि इस केन्द्र के आरंभ हो जाने से प्रदेश के लोगों को विशेषज्ञ स्वास्थ्य देखभाल सुविधा के लिए पीजीआई नहीं जाना पड़ेगा।

जे.पी. नड्डा ने कहा कि बिलासपुर जिला में 1352 करोड़ रुपये की लागत से एम्स का निर्माण किया जा रहा जो आगामी दो वर्षों में बनकर पूर्ण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि सैकड़ो करोड़ रुपये प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों को उपलब्ध करवाए गए है ताकि प्रदेश के लोगों को विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित हो सके। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आज तक 14.50 लाख लोग लाभान्वित हुए है और इससे देश की लगभग 50 करोड़ जनसंख्या लाभान्वित होंगी। उन्होंने केन्द्र सरकार द्वारा विभिन्न गंभीर बीमारियों से ग्रस्त रोगियों के निःशुल्क उपचार के लिए आरंभ की गई योजनाओं की भी जानकारी दी।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने दुलाचर में 1.08 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित उप-तहसील भवन और 6.78 करोड़ रुपये की लागत से होने वाली अमराली-बीतन-बिनेवाल सड़क के उन्नयन कार्य की आधारशिलाएं रखीं।

मुख्यमंत्री ने 1.53 लाख रुपये की लागत से निर्मित बथारी पुल का लोकार्पण किया। उन्होंने 3.62 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाले लालड़ी-कुंगरात-धिलवां सड़क तथा 10 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाले समनाल-बल्लीवाल-पुबोवाल-लालुवाल-पुलियां सड़क की भी आधारशिला रखी।

उन्होंने बढेरा में छात्रावास की आधारशिला तथा ‘हिमकेप्स’ की 7.50 करोड़ रुपये की लागत से बनी सौर सयंत्र का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने आईआईटी सलोह में 2.76 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले 33 के.वी. विद्युत उप केन्द्र की आधारशिला तथा 13 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली ऊना संतोखगढ़ सड़क की भी आधारशिला रखी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *