रिटायरमैंट वाले दिन भी हुई कर्मचारी की मौत तो परिवार के सदस्य को मिलेगी नौकरी

रिटायरमेंट वाले दिन भी हुई कर्मचारी की मौत तो परिवार के सदस्य को मिलेगी नौकरी

मंडी: यदि सरकारी कर्मचारी की रिटायरमेंट वाले दिन भी मौत हो जाती है तो भी परिवार के किसी एक सदस्य को उसके स्थान पर सरकारी नौकरी का लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह जानकारी अपने गृह विधानसभा क्षेत्र सराज के सरोआ में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने कहा कि सरकार ने इसके लिए बजट में प्रावधान किया है। उन्होंने पूर्व सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार ने 50 वर्ष के बाद मृत्यु हो जाने पर यह लाभ देना बंद कर दिया था। मौजूदा सरकार के पास इस लाभ को दोबारा शुरू करने के कई आवेदन आए, जिसके बाद सरकार ने कर्मचारियों के परिवारों की पीड़ा को समझते हुए इस लाभ को देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि रिटायरमैंट वाले दिन तक यह लाभ मिलेगा और परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी।

उन्होंने उज्ज्वला योजना का जिक्र करते हुए कहा कि जो परिवार इस योजना के तहत प्रदेश में छूट गए थे उनके लिए राज्य सरकार ने अलग से गृहिणी सुविधा योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत 50 हजार परिवारों को मुफ्त में गैस कनैक्शन बांटे जा चुके हैं जबकि भविष्य में इन परिवारों को एक-एक रिफिल सरकार की तरफ से मुफ्त में दिया जाएगा।

उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा कल से देश भर में शुरू की जा रही किसान सम्मान निधि योजना को देश के किसानों के लिए लाभकारी बताया। उन्होंने बताया कि कल से यह योजना हिमाचल प्रदेश में भी शुरू हो जाएगी और प्रदेश के 90 प्रतिशत किसान इस योजना का लाभ उठाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 90 प्रतिशत किसानों के पास 25 बीघा से कम जमीन है और उन्हें केंद्र सरकार की इस योजना के तहत सालाना 6 हजार रुपए की राशि सहयोग के रूप में दी जाएगी।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *