मुकेश अग्निहोत्री

बजट सत्र : राज्यपाल का अभिभाषण झूठ का पुलिंदा : मुकेश अग्निहोत्री

शिमला: बजट सत्र के दूसरे दिन राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा में भाग लेते हुए विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश के विधानसभा चुनावों से पहले दिए गए 69 नेशनल हाईवे की स्थिति स्पष्ट नहीं की है। प्रदेश में एक भी नेशनल हाईवे को पैसा मंजूर नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि सरकार ने जो एक साल के दौरान कर्ज लिया लिया है उसका कहीं जिक्र नही है। सैंट्रल यूनिवर्सिटी का शिलान्यास तक नहीं कर पाए। प्रधानमंत्री ने 2 बार प्रदेश का दौरा किया लेकिन प्रदेश को कुछ भी नहीं दिया। उन्होंने पूछा कि क्या अभिभाषण राष्ट्रपति के लिए तैयार किया था या राज्यपाल के लिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। सरकार ने स्कूली छात्रों के साथ धोखा किया है। हेली टैक्सी की उड़ान बंद हैं। उन्होंने कहा कि राज्यपाल का अभिभाषण झूठ का पुलिंदा है। सरकार ने जो एक साल के दौरान कर्ज लिया लिया है, उसका कहीं जिक्र नहीं है। पीएम नरेंद्र मोदी ने दो बार प्रदेश का दौरा किया, लेकिन प्रदेश को कुछ भी नहीं दिया। ऐसे में क्या अभिभाषण राष्ट्रपति के लिए तैयार किया था या राज्यपाल के लिए। उन्होंने कहा कि आयुष्मान की ज्यादा बातें न करें। सीएम के लिए प्रदेश में दिक्कतें हो जाएंगी।

50 हजार लोगों को अंग्रेजी बोलना सीखानी थी, सरकार ने कितनों को अंग्रेजी सिखाई। सरकार कर्ज घटाने की बात कर रही थी, लेकिन सरकार ने निगमों और बोर्ड में अध्यक्ष की फौज खड़ी कर दी है। उन्होंने कहा कि हर पंचायत में जिम लगाने की बात कही थी। पर एक भी जिम नहीं लगा। सरकार 8 लाख 24 हजार स्कूली बच्चों को वर्दी तक नहीं दे पाई। स्कूल के बच्चों को लैपटॉप, बैग और पानी के लिए बोतल देने की बात कही थी। पर किसी को कुछ नहीं मिला है। 18 से 35 साल के युवाओं को पट्टे पर जमीन देने की बात कही गई थी।

सरकार बताए कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में कितने लोगों को पैसा दिया। सीएम युवा कल्याण योजना के कितने लोगों को फायदा दिया है। एक भी युवा को योजना का फायदा नहीं मिला है। मुकेश ने कहा कि प्रदेश में मेधा प्रोत्साहन योजना के क्या हाल हैं। सीएम ने 10 आदर्श विद्या विद्यालय खोलने की बात कही थी। एक भी अभी तक शुरू नहीं हो पाया। देवभूमि दर्शन योजना शुरू करने की बात कही थी, पर एक भी बुजुर्ग को अभी तक यात्रा में नहीं भेजा गया।

सरकार आउटसोर्स पर भर्तियां करने की बात कर रही है। उन्होंने कहा कि 680 करोड़ रुपए आईपीएच की स्कीमों को आया था, वो सरकार ने मंत्रियों में बांट दिया। जनमंच में अधिकारियों को लताड़ा जा रहा है। सरकार ने जनमंच का झंडमंच बना दिया है। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार ने जो दस्तावेज सदन में रखा है, वह पूरी तरह से खोखला है, एक भी बात तथ्यों पर आधारित नहीं है।

नेता विपक्ष के सवालों पर मुख्यमंत्री जयराम ने कहा कि विपक्षी नेता तथ्यों से विपरीत बात कर रहे हैं। उन्हें नहीं भूलना चाहिए कि वह सदन में हैं न कि किसी नुक्कड़ सभा में भाषण दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने एक साल के कम समय अभूतपूर्व विकास किया है। किसी भी योजना को शुरू करने में थोड़ा समय लगता है लेकिन सरकार ने फिर भी बेहतरीन प्रयास किया है। विपक्ष केवल खबरों में रहने के लिए हकीकत से विपरीत बात कर रहा है। विपक्ष पूरी तरह से बेचैन नजर आ रहा है। नेता विपक्ष के सवालों पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 26 फरवरी को सैंट्रल यूनिवर्सिटी का शिलान्यास होगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *