जसबीर जस्सी के गानों से झूमा शिमला

आज से हुआ अंतरराष्ट्रीय समर फेस्टिवल का आगाज

पहाड़ी कलाकारों ने खूब मचायी धूम

कोका तेरा कुछ-कुछ कहेंदा कोका…. से जसबीर जस्सी ने बांधा समां

 शिमला: शिमला के रिज मैदान पर सोमवार से पांच दिवसीय अंतरराष्ट्रीय समर फेस्टिवल का आगाज हो गया। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह समर फेस्टिवल का विधिवत शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने किया समर फेस्टिवल का शुभारंभ।

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने किया समर फेस्टिवल का शुभारंभ।

पहली बार समर फेस्टिवल जिला प्रशासन, पर्यटन विभाग भाषा एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वाधान में किया गया। सोमवार की स्टार नाइट में मशहूर पंजाबी कलाकार जसबीर जस्सी ने अपनी जोरदार प्रस्तुतियों से दर्शकों

पहाड़ी कलाकार विक्की चौहान ने  लोगों का किया खूब मनोरंजन

पहाड़ी कलाकार विक्की चौहान ने लोगों का किया खूब मनोरंजन

को खूब नचाया। खाइके पान बनारस वाला, इक तारा बज्दा वे रांझना दूर महल दी मोरी, कोका तेरा कुछ-कुछ कहेंदा कोका, कजरा मोहब्बत वाला अखियों में ऐसा डाला, जय-जय शिव शंकर कांटा लगे न कंकर जैसे कई पंजाबी गीतों से जसबीर ने दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। इसके अतिरिक्त जाने-माने पहाड़ी कलाकारों में विक्की चौहान ने मुख्य पहाड़ी कलाकार के रूप में लोगों का खूब मनोरंजन किया। इनके अलावा सर्वप्रथम पोर्टमोर स्कूल की छात्राओं ने अपनी प्रस्तुति

IMG_2801 - Copy(1)

अंतरराष्ट्रीय समर फेस्टिवल का आगाज, पहाड़ी कलाकारों ने मचायी धूम

दी। उसके बाद आकाश म्यूजिक ग्रुप, लेहनू राम सांख्यान, बिमला चौहान, पूजा कला मंच, रीना ठाकुर, दलीप सिरमौरी, किन्नौर म्यूजिक ग्रुप, नृत्या रूपा व मोहिंद्र राठौर ने भी अपनी प्रस्तुतियां दी ।

ये भी आकर्षण का केंद्र रहें

जिला प्रशासन की ओर से  पर्यावरण बचाओ व स्वास्थ्य के मध्यनजर आज ‘रन फॉर फन’ का आयोजन भी किया गया

जिला प्रशासन की ओर से पर्यावरण बचाओ व स्वास्थ्य के मध्यनजर आज ‘रन फॉर फन’ का आयोजन भी किया गया

जिला प्रशासन की ओर से पहली बार पर्यावरण बचाओ व स्वास्थ्य के मध्यनजर आज ‘रन फॉर फन’ का आयोजन भी किया। तीन किलोमीटर लंबी इस दौड़ में जिला प्रशासन के आला अधिकारी समेत हजारों की संख्या में बच्चे, बूढ़े और जवान दौड़ें। इसके अतिरिक्त पुरुष वर्ग के लिए 21 किलोमीटर व महिला वर्ग के लिए हाफ मैराथन 10 किलोमीटर का आयोजन भी किया गया। रन फार फन के विजेता को 2 हजार, पुरुष वर्ग के विजेता को 21 हजार तथा महिला वर्ग के विजेता को 15 हजार रुपए का पुरस्कार दिया गया। इसके अतिरक्त बेबी शो, फूड फेस्टिवल, डॉग शो आदि भी आयोजित किए गये ।

बसों की रही पूरी व्यवस्था

समर फेस्टिवल के दौरान जिला प्रशासन की ओर से लोगों के लिए खास बसों की व्यवस्था की गई है। ओल्ड बस स्टैंड व लक्कड़ बाजार बस अड्डे से लोगों को पूरे शिमला शहर के लिए रात दस बजे तक बसों की सुविधा का प्रबंध किया गया था। यह व्यवस्था पांच जून तक जारी रहेगी। ताकि लोगों को फेस्टिवल के बाद घर पहुंचने में आसानी हो।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *