वीरभद्र सिंह न केवल हिमाचल प्रदेश कांग्रेस बल्कि पूरे भारत में वरिष्ठतम नेताओं में से एक : कांग्रेस विधायक

वीरभद्र सिंह न केवल हिमाचल प्रदेश कांग्रेस बल्कि पूरे भारत में वरिष्ठतम नेताओं में से एक : कांग्रेस विधायक

शिमला : कांग्रेस के 11 विधायक विधायक आशा कुमारी, धनीराम शांडिल, आईडी लखनपाल,  नंद लाल, जगत सिंह नेगी,  राजेंद्र राणा, मोहन लाल ब्राक्टा, विक्रमादित्य सिंह, विनय कुमार, आशीष बुटेल व पवन काजल पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के साथ खड़े हो गए गए हैं और इन विधायकों ने पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू पर जुबानी हमला बोला है।

इन्होंने संयुक्त बयान में कहा है कि पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने जो टिप्पणियां पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बारे में की हैं, वह न केवल निंदनीय ही हैं अपितु ये इनके कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद को गंवाने पर बौखलाहट है। यह बीमार मानसिकता को दर्शाने वाला कदम है। अच्छा होता यदि सुक्खू इस तरह की बयानबाजी न करके बीजेपी के शीर्ष नेताओं और केंद्रीय सरकार की जन विरोधी नीतियों का विरोध करते। वीरभद्र सिंह न केवल हिमाचल प्रदेश कांग्रेस बल्कि पूरे भारत में वरिष्ठतम नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर डॉ. मनमोहन सिंह तक के भारत के पीएम के प्रशंसनीय एवं देश व प्रदेश को उन्नति के पग पर ले जाने वाला कार्य किया है। इसके अतिरिक्त वह हिमाचल प्रदेश के 6 बार सीएम, कई बार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री के रूप में भी भारत के लोगों की सेवा कर चुके हैं। सुक्खू  द्वारा दिया बयान न केवल वीरभद्र सिंह को अपमानित करता है, अपितु कांग्रेस पार्टी व प्रदेश के लोगों को भी अपमानित करने वाला है। उनका यह बयान कि पिछले विधान सभा चुनाव में हार की जिम्मेवदारी सरकार की है, संगठन की नहीं हास्यस्पद और बचकाना है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *