हिमाचल : खाई में गिरी बस, 6 बच्चों समेत 7 की मौत

हिमाचल : बस खाई में गिरी , हादसे में 6 बच्चों समेत बस ड्राइवर की मौत

सिरमौर : प्रदेश के सिरमौर जिले में ददाहू-संगड़ाह सड़क मार्ग पर खड़कोली के समीप एक प्राइवेट स्कूल बस करीब 500 फीट गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में 6 मासूम बच्चों समेत बस के चालक की मौत हो गई। जबकि 13 बच्चे घायल हो गए। मृतक और घायलों में अधिकतर बच्चे 10 वर्ष से कम उम्र के थे। हादसे की वजह लापरवाही व तकनीकी खराबी माना जा रहा है। घायल बच्चों में से छह की हालत नाजुक बताई जा रही है।

उन्हें पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है। पुलिस ने लापरवाही से वाहन चलाने का मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार डीएवीएन स्कूल ददाहू की 26 सीटर बस (एचपी-71-4993) संगड़ाह की ओर से सुबह बच्चों को लेकर आ रही थी। खड़कोली के समीप एक मोड़ पर अचानक बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई। मौके की स्थिति के अनुसार चालक ने हालांकि ब्रेक लगाकर बस रोकने का भी प्रयास किया, लेकिन बस अनियंत्रित होकर गलत दिशा की तरफ से खाई में गिर गई।

बस में 17 बच्चे समेत एक बुजुर्ग सवार थे। हादसे में तीन बच्चों की ददाहू अस्पताल लाते वक्त रास्ते में मौत हुई जबकि चालक राम स्वरूप ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। तीन बच्चों ने नाहन मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। हादसे के बाद पूरा प्रशासन अलर्ट हो गया। वहीं, डॉक्टर भी हादसे की सूचना मिलत ही मौके पर पहुंच गए थे।

  • राज्यपाल व मुख्यमंत्री का बस दुर्घटना में 6 स्कूली बच्चों की मृत्यु पर शोक व्यक्त

राज्यपाल आचार्य देवव्रत तथा मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने सिरमौर जिले के रेणुका जी निर्वाचन क्षेत्र के खड़कोली के समीप शनिवार प्रातः एक स्कूल बस दुर्घटना में सात लोगों, जिनमें छह स्कूली बच्चे शामिल हैं कि मृत्यु पर गहरा दुःख प्रकट किया है। राज्यपाल ने कहा कि यह एक दुःखद घटना है, जिसमें छः मासूम स्कूली बच्चों ने भी अपने प्राण गवाएं। उन्होंने ईश्वर से दिवंग्त आत्माओं की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। उन्होंने घायल बच्चों के शीघ्र स्वस्थ लाभ की भी कामना की है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि वह इस दुर्घटना पर अत्यन्त दुखी है, जिसमें सात बहुमूल्य जानें गई हैं। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त की तथा दिवंग्त आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की है। उन्होंने दुर्घटना में घायल बच्चां के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को दुर्घटना में मृतक के परिजनों को हर संभव सहायता उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने घायल बच्चों को बेहतर उपचार प्रदान करने के भी निर्देश दिए हैं।

हि.प्र. विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल तथा उपायुक्त ललित जैन घायल बच्चों को मिलने अस्पताल पहुंचे और उन्होंने गंभीर रूप से घायल बच्चों को पीजीआई चंडीगढ़ भेजने के प्रबन्ध किए। जिला प्रशासन ने मृतकों के परिजन प्रत्येक को 20 हजार रुपये तथा घायलों को 10 हजार रुपये फौरी राहत के रूप में प्रदान किए। इसके अलावा उपायुक्त ने पीजीआई चंडीगढ़ रैफर किए गए घायलों को रैडक्रॉस निधि से भी 50 हजार रुपये प्रदान किए।

परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने बस दुर्घटना में छः स्कूली बच्चों तथा बस चालक की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया। उन्होंने शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है तथा घायल बच्चों के शीघ्र स्वस्थ होने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *