बंदरों की समस्या से किसानों को निजात दिलाने का हो प्रावधान: अनुराग

बंदरों की समस्या से किसानों को निजात दिलाने का हो प्रावधान: अनुराग

नई दिल्ली: लोकसभा में चीफ़ व्हिप और हमीरपुर सांसद अनुराग ने हिमाचल प्रदेश के किसानों को बंदरों से होने वाली समस्या को लोकसभा में उठाया। अनुराग ठाकुर ने हिमाचल के किसानों को इस समस्या से निजात दिलाने के लिए केंद्र सरकार से मनरेगा और सांसद निधि के माध्यम से इस समस्या से निजात दिलाने की बात कही।

लोकसभा में बंदरों की समस्या पर बोलते हुए नुराग ठाकुर ने कहा “हमारे देश के किसान हमारी ताक़त हैं और इस देश को चलाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका है। किसानों की फ़सलों को बर्बाद होने से बचाने के लिए और उनकी आय दुगुनी करने के किए केंद्र सरकार विभिन्न योजनाएँ चला रही है। मैं एक पहाड़ी राज्य से आता हूँ जहाँ किसानों को खेती करने में आवारा पशु और बंदर हमेशा से प्रमुख समस्या रहे हैं। हिमाचल में बंदरों की संख्या इतनी बढ़ चुकी है कि वे शहरों से निकलकर हज़ारों गांवों में फैल गए हैं और फलों-फ़सलों को काफ़ी नुकसान पहुंचाते हैं। हांलाकि मौजूदा प्रदेश सरकार ने फ़सलों को बंदरों से बचाने के लिए प्रभावी क़दम उठाए हैं और इसका असर भी देखने को मिल रहा है,मगर हिमाचल एक छोटा प्रदेश है और बंदरों की समस्या से पूरी तरह निजात पाने के लिए फ़ंड की कमी आड़े आ रही है”

आगे बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा”हिमाचल में बंदरों के आतंक से किसान खेती करना छोड़ रहा है क्योंकि बंदर खड़ी फ़सलों और पूरे खेत को काफ़ी नुक़सान पहुँचाते हैं। उन्हें संभालना मुश्किल भरा क़दम है। मेरा केंद्र सरकार से निवेदन है कि किसानों को मनरेगा और सांसद निधि के माध्यम से इस समस्या से निजात दिलाई जाए। मनरेगा में किसानों को माध्यम से खेतों की रखवाली का प्रावधान होना चाहिए और साथ ही साथ सांसद निधि के माध्यम से खेतों के किनारों पर कँटीली तार लगाकर फ़सलों के बचाव का प्रयास किया जाना चाहिए।”

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *