हिमाचल: पेंशनभोगियों को वार्षिक जीवन प्रमाण-पत्र कोष कार्यालय में जमा करना आवश्यक

यदि पुरानी पेंशन को जल्द बहाल नहीं किया, तो लोकसभा चुनाव में कर्मचारी उतारेंगे अपने उम्‍मीदवार

  • कर्मचारियों ने दिया नारा; जो पुरानी पेंशन बहाल करेगा वही देश पर राज करेगा

धर्मशाला : सेवानिवृत्त कर्मचारियों व वर्तमान में सेवाएं दे रहे कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ अपना मोर्चा खोल दिया है। धर्मशाला में तपोवन स्थित जोरावर स्टेडियम में शुक्रवार को प्रदेश भर से भारी संख्या में सेवानिवृत्त कर्मचारी व वर्तमान में कार्य कर रहे कर्मचारी एकत्र हुए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कर्मचारियों की पेंशन सुविधा को बंद कर सरकार ने कर्मचारियों के हितों के साथ खिलवाड़ किया है। जिसके चलते कर्मचारियों को अपनी पेंशन बहाली के लिए सरकार को घेरना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सेवानिवृत्त कर्मचारियों व वर्तमान में काम कर रहे कर्मचारियों की पुरानी पेंशन को जल्‍द बहाल करे। इस दौरान कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ एक नारा भी दिया जो पुरानी पेंशन बहाल करेगा वही देश पर राज करेगा। इस दौरान न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष नरेश ठाकुर, वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. संजीव गुलेरिया, महासचिव भरत शर्मा, जिला कांगड़ा अध्यक्ष राजेंद्र मिन्हास ने कहा कि जब सरकार अपने नम आंखों के लिए पेंशन स्कीम लागू कर सकती है तो प्रदेश के हजारों कर्मचारी जिन्होंने कई सालों तक सरकार के विभागों में अपनी सेवाएं कड़ी मेहनत व लगन के साथ की है तो उनकी पेंशन बहाल क्यों नहीं की जाती!

डॉक्टर संजीव गुलेरिया ने कहा कि यदि सरकार ने जल्द पुरानी पेंशन स्कीम को बहाल नहीं किया तो आगामी लोकसभा चुनाव में कर्मचारी सभी चारों सीटों पर अपने उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारेगी और उसी को वोट करेगी। जहां पहले लोग चुनाव में नोटा का इस्तेमाल करते थे इन लोकसभा चुनाव में प्रदेश के लोगों से नोटा के इस्तेमाल की बजाय कर्मचारी उम्मीदवारों को वोट डालने की अपील कर्मचारियों से की जाएगी। कर्मचारी नेताओं का कहना था कि उनकी सरकार के साथ बातचीत चल रही है और मुख्यमंत्री ने उन्हें मिलने का समय भी दिया है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *