“प्रतिष्ठित भारत ज्‍योति पुरस्‍कार” से नवाजे एसजेवीएन के वित्‍त निदेशक अमरजीत सिंह बिन्‍द्रा

“प्रतिष्ठित भारत ज्‍योति पुरस्‍कार” से नवाजे एसजेवीएन के वित्‍त निदेशक अमरजीत सिंह बिन्‍द्रा

  • छत्‍तीसगढ़ के भूतपूर्व राज्‍यपाल शेखर दत्‍त ने बिन्‍द्रा को पुरस्कार देकर किया सम्मानित
  • बिन्‍द्रा को एसजेवीएन में व्‍यावसायिक उत्‍कृष्‍टता तथा बेहतरीन कार्य निष्‍पादन के लिए मिला यह पुरस्‍कार

शिमला: एसजेवीएन के निदेशक (वित्‍त) अमरजीत सिंह बिन्‍द्रा को इंडिया इंटरनेशनल फ्रेंडशिप सोसायटी द्वारा प्रतिष्ठित भारत ज्‍योति पुरस्‍कार से नवाजा गया है।  छत्‍तीसगढ़ के भूतपूर्व राज्‍यपाल शेखर दत्‍त ने बिन्‍द्रा को उनकी सामाजिक सेवा तथा पूर्व में दिल्‍ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) एवं वर्तमान में एसजेवीएन में व्‍यावसायिक उत्‍कृष्‍टता तथा बेहतरीन कार्य निष्‍पादन के लिए यह पुरस्‍कार नई दिल्‍ली में आयोजित एक समारोह में प्रदान किया।

अपनी व्‍यावसायिक उत्‍कृष्‍टता के साथ बिन्‍द्रा एक दरियादिल लोक उपकारक है और समाज के वंचित वर्ग के लोगों की जरूरतों और उनके सामाजिक उन्‍नयन के प्रति अति संवेदनशील है।  दिल्‍ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) में अपने सेवाकाल के आरंभिक समय से ही वे सामाजिक सरोकरों के प्रति सक्रिय रूप से बढ़-चढ़कर योगदान देते रहे हैं।  उन्‍होंने इस परंपरा को एसजेवीएन में भी जारी रखा है। इस अवसर पर अमरजीत सिंह बिन्‍द्रा ने बताया कि वर्ष 2023 तक 5000 मेगावाट, सन 2030 तक 12000 मेगावाट तथा 2040 तक 25,000 मेगावाट कंपनी बनने के महत्‍वाकांक्षी लक्ष्‍य को पूरा करते के लिए इक्विटी हिस्‍सेदारी हेतु अंशदान के लिए एसजेवीएन के पास पर्याप्‍त सुरक्षित धनराशि है।  उन्‍होंने आगे बताया कि इन लक्ष्‍यों को पूरा करने के लिए एसजेवीएन के पास तकनीकी विशेषज्ञता और वित्‍तीय आधार दोनों मौजूद हैं।

दि‍ इंडिया इंटरनेशनल फ्रेंडशिप सोसायटी (आईआईएफएस) नई दिल्‍ली में स्थित एक निजी स्‍वैच्छिक संस्‍था है जिसका कथित मकसद भारत तथा इसके प्रवासी समुदाय के मध्‍य भारत के लाभ के लिए इन प्रवासियों के संसाधनों और संभाव्‍यता का उपयोग करने की उम्‍मीद से संबंधों को सुदृढ़ करना है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *