IM

एचपीएसआईडीसी कर रहा है 100 करोड़ की परियोजनाओं का क्रियान्वयन : मुकेश अग्निहोत्री

हिमाचल प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम के निदेशक मंडल की 248वीं बैठक आयोजित

8.23 करोड़ रुपये से विकसित किया जाएगा कांगड़ा जिले का कंदरोड़ी औद्योगिक क्षेत्र

शिमला : उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि राज्य औद्योगिक विकास निगम (एचपीएसआईडीसी) प्रदेश में 100 करोड़ रुपये लागत की निर्माण परियोजनाओं को क्रियान्वित कर रहा है, जिनमें प्रदेश के विभिन्न भागों में 40 करोड़ रुपये व्यय करके 107 स्कूल भवनों का निर्माण भी शामिल है। उद्योग मंत्री आज यहां हिमाचल प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम के निदेशक मंडल की 248वीं बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने ऊना जिले के पंडोगा में औद्योगिक क्षेत्र के विकास के लिए 10.19 करोड़ रुपये जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि पंडोगा औद्योगिक क्षेत्र के लिए चयनित स्थल को विकसित करने के लिए परामर्श एवं विशेषज्ञ राय के लिए आई.आई.टी रूड़की से बात की गई है। उन्होंने निगम के अधिकारियों को आगामी मानसून से पहले औद्योगिक स्थल विकास कार्य पूरा करने के निर्देश दिए।

उद्योग मंत्री ने कहा कि उद्यमियों के लाभ के लिए कांगड़ा जिले के कंदरोड़ी में 8.23 करोड़ रुपये व्यय करके औद्योगिक क्षेत्र विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ये दोनों औद्योगिक क्षेत्र केन्द्रीय वाणिज्य मंत्रालय द्वारा औद्योगिक नीति एवं प्रोत्साहन विभाग के माध्यम से संशोधित औद्योगिक अधोसंरचना स्तरोन्नयन योजना के अन्तर्गत स्वीकृत किये गए हैं। अग्निहोत्री ने कहा कि निगम द्वारा इन औद्योगिक क्षेत्रों का विकास अत्याधुनिक औद्योगिक क्षेत्रों के तौर पर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उद्यमियों को इन क्षेत्रों में अपनी इकाइयां स्थापित करने के लिए विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।

उन्होंने कहा कि राज्य औद्योगिक विकास निगम को अपनी गतिविधियों में विविधता लानी चाहिए ताकि यह अधिक प्रतिस्पर्धी बनकर और अधिक मुनाफा कमा सके। उन्होंने निगम की कार्यप्रणाली में अधिक व्यवसायिकता लाने पर भी बल दिया। हि.प्र. राज्य औद्योगिक विकास निगम के उपाध्यक्ष अतुल शर्मा ने निगम की विभिन्न गतिविधियों का विस्तृत ब्यौरा दिया। उन्होंने उद्योग मंत्री से निगम में कनिष्ठ अभियंताओं जैसे क्रियाशील पदों को भरने का आग्रह किया ताकि निगम की कार्यप्रणाली को अधिक प्रभावी बनाया जा सके। प्रधान सचिव उद्योग आर.डी. धीमान, हि.प्र. राज्य वित्त निगम के प्रबन्ध निदेशक ओंकार शर्मा, उद्योग विभाग के निदेशक राजेन्द्र ठाकुर, विशेष सचिव वित्त राजेश शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

 

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *