मुख्यमंत्री बोले : कॉलेज के दिन जीवन के सर्वश्रेष्ठ दिन

मुख्यमंत्री बोले : कॉलेज के दिन जीवन के सर्वश्रेष्ठ दिन

  • मण्डी : 50 करोड़ की परियोजना से मण्डी की पर्यटन गतिविधियों को मिलेगा बढ़ावा: मुख्यमंत्री
  • मण्डी में कलस्टर विश्वविद्यालय की आधारशिला

मण्डी : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी में वल्लभ राजकीय डिग्री कॉलेज की प्लेटिनम जुबली समारोह की अध्यक्षता की। जय राम ठाकुर ने बताया कि ज़िले में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए मण्डी शहर के लिए 50 करोड़ रुपये की पर्यटन विकास परियोजना एशियन विकास बैंक को वित्तपोषण हेतु भेजी गई है। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के तहत मण्डी को विश्व पर्यटन मानचित्र पर लाने के लिए क्षेत्र में एक झील तथा अन्य बुनियादी पर्यटन सुविधाओं का विकास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में हेली-टैक्सी सुविधा प्रदान करने के लिए कंगनीधार में एक हेलिपेड का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को उत्कृष्ट चिकित्सा प्रदान करने के लिए नेरचौक में मेडिकल विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि कलस्टर विश्वविद्यालय को शीघ्र ही एक परिपूर्ण विश्वविद्यालय बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को सुविधा प्रदान करने के लिए महाविद्यालय में शीघ्र ही एक खूबसूरत सभागार का भी निर्माण किया जाएगा।

कॉलेज के अपने अतीत के दिनों का स्मरण करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कॉलेज के दिन जीवन के सर्वश्रेष्ठ दिन होते हैं, क्योंकि हम अपने कॉलेज दिनों के दौरान चिंतामुक्त जीवन जीते हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने इसी कॉलेज से अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की थी। उन्होंने कहा कि कॉलेज में उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला है और उनके जीवन में निखार लाने में कॉलेज की देन है। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज से अनेक जाने-माने विद्यार्थी निकले हैं, जिन्होंने अपने संस्थान को गौरवान्वित किया है। उन्होंने कहा कि यह जानकर खुशी होती है कि क्षेत्र में अनेक नए कॉलेजो के बावजूद इस कॉलेज में विद्यार्थियों की संख्या निरन्तर बढ़ रही है।

मण्डी : 50 करोड़ की परियोजना से मण्डी की पर्यटन गतिविधियों को मिलेगा बढ़ावा: मुख्यमंत्री

मण्डी : 50 करोड़ की परियोजना से मण्डी की पर्यटन गतिविधियों को मिलेगा बढ़ावा: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने युवा पीढ़ी में नशीले पदार्थों के बढ़ते सेवन पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि यह सामाजिक बुराई हमारे समाज को कलंकित कर रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही में उनकी पहल पर इस सामाजिक बुराई के उन्नमूलन के लिए एक संयुक्त रणनीति बनाने के लिए उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की एक बैठक आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि हममें से प्रत्येक को समाज से इस बुराई को समाप्त करने के लिए मिशन की भावना के साथ एकजुट होकर कार्य करना चाहिए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि व्यक्ति को हमेशा ही सीखने के लिए तैयार रहना चाहिए, क्योंकि जीवन हमें आये दिन कुछ न कुछ अवश्य सिखाता है। उन्होंने विद्यार्थियों से अपने अध्यापकों, अभिभावकों तथा बुजुर्गों का सम्मान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज का उनके जीवन में बहुत बड़ा योगदान है।

मुख्यमंत्री ने पड्डल के समीप एक खुले जिम्नेजियम के निर्माण के लिए 25 लाख रुपये की घोषणा की। उन्होंने मण्डी शहर में सड़कों की मुरम्मत के लिए तीन करोड़ रुपये की भी घोषणा की।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने मण्डी में 16.19 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले कलस्टर विश्वविद्यालय भवन की आधारशिला रखी। आरम्भ में क्षेत्र के चार महाविद्यालयों को शामिल कर राज्य में कलस्टर विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए 50 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है।

जय राम ठाकुर ने इस अवसर पर सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। उन्होंने प्रदर्शनी स्टालों का दौरा भी किया और प्रदर्शनी में गहरी रूचि दिखाई। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कॉलेज के विद्यार्थी रहे डॉ. धर्म पाल कपूर द्वारा लिखित तीन पुस्तकों का विमोचन किया। उन्होंने कालेज की स्मारिका का भी विमोचन किया।

इसके उपरान्त, मुख्यमंत्री ने पुराने सुकेती पुल के समीप सुकेती खड्ड से लगती बाईपास सड़क के संरक्षण तथा मृद्धा स्थायित्व कार्य की आधारशिला रखी। इसके निर्माण पर 618.10 लाख रुपये की लागत आएगी। संरक्षण तथा मृद्धा स्थायित्व के अलावा, स्थान के बेहतर उपयोग के लिए चार वर्षा शालिकाओं तथा सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण भी किया जाएगा। उन्होंने 5.12 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले कुल 3340 मीट्रिक टन क्षमता के भारतीय खाद्य निगम के गोदाम की भी आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने 604 लाख रुपये की लागत से स्कोडी खड्ड के तटीकरण के लिए भी आधारशिला रखी। उन्होंने दो पुलों, गणपति नाले पर 11 मीटर लम्बा आरसीसी गिरडर पुल तथा गणपति कुन कटार सड़क में गर्द नाले पर 385.35 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 24 मीटर लम्बे पीएससी बॉक्स गिरडर पुल की भी आधारशिला रखी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *