उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने किया हिमाचल में अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र खोलने का आग्रह

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने किया हिमाचल में अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र खोलने का आग्रह

  • उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने नई दिल्ली में की केन्द्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता तथा प्राकृतिक गैस मंत्री धमेन्द्र प्रधान से मुलाकात
  • अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र खुलने से प्रदेश के युवाओं को मिलेंगे अधिक अवसर
  • अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होंगे केन्द्र, जिनमें होंगी सभी मूलभूत व ढांचागत सुविधाएं

शिमला : उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने आज नई दिल्ली में केन्द्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता तथा प्राकृतिक गैस मंत्री धमेन्द्र प्रधान से मुलाकात की। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से हिमाचल प्रदेश में अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र खोलने का आग्रह किया।

बिक्रम सिंह ने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र खुलने से प्रदेश के युवाओं को उनके बेहतर भविष्य के लिए अधिक अवसर मिलेंगे और उनके बेहतर भविष्य के लिए अन्तर्राष्ट्रीय मानदण्डों अनुरूप प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने का मौका मिलेगा। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से हिमाचल के लिए अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र स्वीकृत करने तथा सम्बन्धित अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश जारी करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस केन्द्र होंगे, जिनमें सभी मूलभूत व ढांचागत सुविधाएं होंगी और इनमें अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण तथा सर्टिफिकेट प्रोग्राम शुरू किए जाएंगे।

अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्र विदेशी मामलों के विभाग से मान्यता प्राप्त एजेंटो के माध्यम से विदेशों में रोजगार इच्छुक लोगों को रोजगार की सुविधाएं उपलब्ध करवाने में सहायक होंगे। अन्तर्राष्ट्रीय कौशल केन्द्रों की स्थापना से अन्य देशों में प्रवासन के इच्छुक लोगों को प्रशिक्षण सुविधाएं उपलब्ध करवाने में सहायता मिलेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *