आईजीएमसी के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. जितेंद्र कुमार मोक्टा अमरीका में सम्मानित, मिला प्रतिष्ठित "ऑस्कर ई- एडवर्ड" अवार्ड

आईजीएमसी के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डॉ. जितेंद्र कुमार मोक्टा अमरीका में सम्मानित, मिला प्रतिष्ठित “ऑस्कर ई- एडवर्ड” अवार्ड

  • डॉ. जितेंद्र कुमार पहले ऐसे भारतीय हैं, जिन्हें इस अवार्ड से किया गया है सम्मानित
  • हिमाचल के ग्रामीण व दुर्गम क्षेत्रों में सराहनीय स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए मिला डा. मोक्टा को ये अवार्ड
  • मरीजों के साथ डॉ. मोक्टा का सहानुभूति और मददगार रवैया बनाता है उन्हें और भी खास
शिमला : आईजीएमसी

शिमला : आईजीएमसी

शिमला: हिमाचल प्रदेश के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डा. जितेंद्र कुमार मोक्टा जहां एक बेहतरीन डॉक्टर के रूप में जाने जाते हैं वहीं मरीजों के साथ उनका सहानुभूति और मददगार रवैया उन्हें और भी खास बनाता है। हिमाचल के ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों में सराहनीय स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए भी डॉ. जितेंद्र कुमार मोक्टा की खासी सराहना की जाती है। अब तो इस सराहना की गूंज विदेशों तक भी गूंजने लगी है। हाल ही में डॉ. मोक्टा को अमरीका में प्रतिष्ठित “ऑस्कर ई-एडवर्ड सम्मान” से सम्मानित किया गया है। हिमाचल के ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों में सराहनीय स्वास्थ्य सेवाएं देने की वजह से उन्हें यह अवार्ड मिला है। जोकि डॉ. मोक्टा और उनके परिवार के लिए गौरव की बात तो है ही, साथ ही हिमाचल के इस बेटे पर पूरे देश को भी गर्व है। डॉ. जितेंद्र कुमार पहले ऐसे भारतीय हैं जिन्हें इस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। उन्हें यह अवार्ड अमरीका के न्यू आर्लेंस लूजियाना में दिया गया। इस अवार्ड में डॉ. जितेंद्र कुमार को एक प्रशस्ति पत्र एक शीशे का पलॉक और 250 अमेरिकन डॉलर शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि अमेरिकन कालेज ऑफ फिजिशियंज अमरीका की सबसे बड़ी मेडिकल संस्था है। यह अवार्ड प्रत्येक वर्ष दुनिया के ऐसे फिजिशियन को दिया जाता है जो दुनिया के किसी भी क्षेत्र में अपनी स्वैच्छिक स्वास्थ्य सेवाएं देता है।  डा. जितेंद्र कुमार मोक्टा भारत के वह पहले फिजिशियन हैं, जिन्हें अमरीका के प्रतिष्ठित कॉलेज ऑफ फिजिशियन के ऑस्कर ई-एडवर्ड मेमोरियल सम्मान के लिए पूरे भारत में चुना गया है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *